Daesh News

एक और ट्रेन हादसा होते-होते बचा, रेड सिग्नल के बावजूद क्रॉस कर गई कोलकाता एक्सप्रेस

ओड़िसा के बालासोर में हुए ट्रेन दुर्घटना ने पूरे देशवासियों को झकझोर कर रख दिया. लेकिन, इसके बावजूद लापरवाही थमने का नाम नहीं ले रही है. पिछले दिनों मुजफ्फरपुर में बड़ा हादसा होते-होते टला था. इस बीच एक और बड़ा हादसा होते-होते रह गया. कई लोगों के घरों का चिराग बुझ जाता, कई लोगों के घरों में चीख पुकार मच जाती लेकिन गार्ड की तत्परता के कारण कई लोगों की जान बच गई. यह पूरा मामला भभुआ रोड रेलवे स्टेशन की है. 

रेड सिग्नल के बावजूद पटरी पर दौड़ती रही ट्रेन    

दरअसल, जम्मू से हावड़ा जाने वाली 13152 जम्मूतवी सियालदह कोलकाता एक्सप्रेस को भभुआ रोड रेलवे स्टेशन पर रेड सिग्नल दिया गया. लेकिन, इसके बावजूद ट्रेन पार्टी पर दौड़ती रही. वो तो गनीमत रही कि गार्ड ने सूझबूझ दिखाई और इमरजेंसी ब्रेक लगाया. इसके साथ ही स्टेशन मास्टर ने ओवरहेड तार में आपूर्ति हो रही बिजली को बंद कर दिया. जिसके बाद ट्रेन रिवरसेबुल लाइन में रुक गई. जिसके बाद ट्रेन में मौजूद कई यात्रियों की जान बाल-बाल बची. बड़ा हादसा होने से टल गया.

DRM समेत अधिकारी पहुंचे स्टेशन 

इस घटना के बाद मौके पर हड़कंप मच गया. रेल यात्रियों के बीच भय का माहौल कायम हो गया. इसके साथ ही रेल यात्री खूब हंगामा भी करने लगे. वहीं, इस पूरे घटना की जानकारी मिलने पर डीआरएम राजेश गुप्ता समेत अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंचे. सभी ने पूरी घटना की जानकारी ली. इस दौरान डीआरएम राजेश गुप्ता ने कहा कि, ड्राईवर को बदल कर ट्रेन को फिलहाल रवाना कर दिया गया है. इसके साथ ही ऐसा कहा जा रहा है कि, लापरवाही बरतने के कारण ड्राईवर पर गाज गिर सकती है. 

5 सदस्यीय टीम करेगी जांच 

वहीं, स्टेशन पर जानकारी लेने पहुंचे डीआरएम राजेश गुप्ता ने यह भी बताया कि, इस घटना को लेकर 5 सदस्यों की एक टीम बनाई गई है. यह टीम ही पूरे मामले में जांच करेगी. वहीं, जांच के बाद जो कुछ भी रिपोर्ट में सामने आएगा, उसके अनुसार ही दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी.