Daesh News

महागठबंधन टूटते ही तेजस्वी यादव ने चेंज किया 'एक्स' बायो, अब खुद को बताया यह....

बिहार में अब सरकार बदल चुकी है. एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एनडीए का दामन थाम लिया है और अब बिहार में नए सिरे से काम किया जाएगा. बिहार में नीतीश कुमार ने 9वीं बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है. इधर, नई कैबिनेट के शपथ ग्रहण समारोह के बाद बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने अपने एक्स हैंडल का बायो चेंज कर लिया है. दरअसल, तेजस्वी यादव ने अपने एक्स हैंडल पर 'एक्स डिप्टी सीएम ऑफ बिहार' कर लिया है. 

'अभी खेल शुरू हुआ है'

हालांकि, इससे पहले तेजस्वी यादव ने सरकार बदलने पर कहा था कि, नीतीश कुमार पहले भी आदरणीय थे. आज भी हैं. बता दें कि, 28 जनवरी को शपथ ग्रहण से ठीक पहले तेजस्वी यादव का बयान सामने आया था. न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत के दौरान तेजस्वी यादव ने कहा था, 'उनके जो विधायक हैं वो 45 हैं. हम क्यों नहीं क्रेडिट लें ? यही यानि कि नीतीश कुमार पहले कहते थे कि नौकरी देना संभव नहीं है. उनसे एक हफ्ते के अंदर उनसे बोलवाने का काम किया. इसके साथ ही स्पोर्ट्स पॉलिसी लाए. 70 दिन के अंदर 2 लाख से अधिक नौकरी दी. इनसे 17 महीने के सरकार में बहुत काम करवाया. ये तो थके हुए मुख्यमंत्री हैं. अभी खेल शुरू हुआ है. खेल बाकी है. मैं जो कहता हूं वो करता हूं. 2024 में जेडीयू ही खत्म हो जाएगी. शिक्षा व्यवस्था में सुधार, चिकित्सा में, रोजगार, पॉलिस लाना ये सब काम किया.'

एक्स बायो किया चेंज

इस दौरान तेजस्वी यादव इतने पर ही नहीं रुके बल्कि उन्होंने कहा कि, डिप्टी सीएम होते हुए और आरजेडी के मंत्रियों ने इतना काम किया. कैबिनेट ने दो लाख नौकरी का फाइल रोक कर रखा है. दो बार वह फाइल नहीं आ रहा है. हमने ईमानदारी से काम किया है. अभी खेला बाकी है. हमलोग महागठबंधन सरकार उम्मीद से बनाए थे. बीजेपी नेताओं के बयान पर उन्होंने कहा कि दूसरे की टिप्पणी पर क्या बोला जाए. जनता इसका जवाब देगी. मंच से नीतीश कुमार हमलोग के साथ कितना काम गिनवाते थे. हम लोग के साथ आने के बाद यह सब शुरू हुआ. खैर, इन तमाम गतिविधियों के बीच तेजस्वी यादव ने अपना एक्स बायो बदल लिया है.

नई सरकार की पहली गाज विधानसभा अध्यक्ष पर

इधर आपको बता दें कि, नई सरकार के गठन के बाद पहला एक्शन विधानसभा अध्यक्ष अवध बिहारी चौधरी के खिलाफ लिया गया है. अवध बिहारी चौधरी को अविश्वास प्रस्ताव को लेकर नोटिस दिया गया है. साथ ही नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार की पहली कैबिनेट बैठक आज होने वाली है. इसमें महाधिवक्ता के मनोनयन के साथ विधानमंडल के बजट सत्र की संभावित तिथि और अन्य प्रस्ताव पर चर्चा होगी और निर्णय लिए जाएंगे. बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करेंगे. वहीं, नई सरकार बनने से 5 फरवरी से होने वाले बजट सत्र का मामला खत्म हो गया है. इसके लिए अब नयी तिथि घोषित होगी. नयी सरकार गठन के बाद उसी दिन मंत्रिमंडल की पहली बैठक होती रही है लेकिन किसी कारणों से बैठक नहीं हो सकी. वहीं, आज यह बैठक होगी.