Daesh News

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज में कप्तानी करेंगे रोहित शर्मा?आई फैंस को खुश कर देने वाली रिपोर्ट

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) के टॉप अधिकारी दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए गुरुवार को तीनों फॉर्मेट की टीम की घोषणा करने से पहले रोहित शर्मा को फिर टी20 टीम की कमान संभालने के लिए भी मनाने की कोशिश करेगा. पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप 2022 के सेमीफाइनल में हारने के बाद रोहित ने टी20 प्रारूप से दूरी बना ली थी. BCCI के सचिव जय शाह सेलेक्शन कमिटी के अध्यक्ष अजीत अगरकर से मुलाकात करेंगे जिसमें तीनों प्रारूप की टीम के अलावा अगले साल होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के लिए खाका तैयार करने पर भी चर्चा होगी.

रोहित शर्मा को फिर टी20 कप्तानी सौंपने की कोशिश में BCCI

टी20 के नियमित कप्तान हार्दिक पांड्या चोटिल होने के कारण अगले एक महीने तक वापसी नहीं कर पाएंगे और ऐसे में बीसीसीआई के पास सूर्यकुमार यादव को कप्तान बनाए रखना या फिर रोहित को यह जिम्मेदारी सौंपने के अलावा कोई विकल्प नहीं है. रोहित इससे पहले कह चुके हैं कि वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर टी20 प्रारूप में नहीं खेलना चाहते हैं, लेकिन उन्होंने जिस तरह से हाल में वनडे वर्ल्ड कप में कप्तानी की उससे बीसीसीआई को लगता है कि अगले साल जून जुलाई में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप तक उन्हें इस छोटे प्रारूप की कप्तानी भी संभालनी चाहिए.

सामने आ गया बड़ा अपडेट

बीसीसीआई के सूत्र ने कहा, ‘यह सवाल अभी बना हुआ है की हार्दिक की वापसी पर क्या होगा, लेकिन बीसीसीआई का मानना है कि अगर रोहित टी20 की कमान संभालने के लिए सहमत हो जाते हैं तो अगले टी20 वर्ल्ड कप तक वहीं कप्तान रहेंगे. अगर रोहित नहीं मानते हैं तो दक्षिण अफ्रीका में टी20 सीरीज में सूर्यकुमार ही कप्तानी करेंगे.’ यह उल्लेख करना आवश्यक है कि विराट कोहली ने दक्षिण अफ्रीका में होने वाली सीमित ओवरों की सीरीज से आराम दिए जाने की मांग की है, जहां तक कोहली का सवाल है तो यह उनके आईपीएल में प्रदर्शन पर निर्भर करेगा. यही बात केएल राहुल पर भी लागू होगी.

राहुल और श्रेयस अय्यर वापसी करेंगे

दूसरा सवाल वर्कलोड मैनेजमेंट से जुड़ा है, क्योंकि भारत को 11 दिन के अंदर सीमित ओवरों के छह मैच खेलने हैं. इनमें तीन वनडे भी शामिल है, जो उसने पांच दिन के अंदर खेलने हैं. इसके पांच दिन के अंदर 26 दिसंबर को टेस्ट सीरीज शुरू हो जाएगी. जहां तक टेस्ट टीम का सवाल है तो राहुल और श्रेयस अय्यर वापसी करेंगे. अजिंक्य रहाणे को बाहर किया जा सकता है, जबकि चेतेश्वर पुजारा की वापसी की बहुत कम संभावना है.

रहाणे टीम में जगह बना पाएंगे

राहुल अगर विकेटकीपर की जिम्मेदारी भी संभालते हैं तो इस स्थिति में ही रहाणे टीम में जगह बना पाएंगे. जसप्रीत बुमराह भी टेस्ट क्रिकेट खेलने के इच्छुक हैं तथा वह मोहम्मद शमी, मोहम्मद सिराज और शार्दुल ठाकुर के साथ तेज गेंदबाजी विभाग का जिम्मा संभालेंगे. मुकेश कुमार को रिजर्व तेज गेंदबाज के रूप में रखा जा सकता है. रविंद्र जडेजा विदेश की परिस्थितियों में हमेशा की तरह पहली पसंद के स्पिनर होंगे. उनके साथ देने के लिए रविचंद्रन अश्विन तथा अक्षर पटेल या कुलदीप यादव में से किसी एक का चयन किया जाएगा. विकेटकीपर केएस भरत का बल्लेबाजी में बेहद निराशाजनक प्रदर्शन रहा है तथा राहुल के विकेटकीपिंग की जिम्मेदारी नहीं संभालने की स्थिति में ही उनका चयन हो सकता है.