Daesh News

भागलपुर में अब सरकारी स्कूलों के छात्रों को मिलेगी प्राइवेट वाली शिक्षा, डीईओ ने बनाई यह योजना

बिहार में पढ़ाई को लेकर सरकार सजग दिखाई दे रही है. इसी क्रम में भागलपुर जिले की सरकारी शिक्षा व्यवस्था में काफी सुधार हो रहा है. अब यहां भी स्मार्ट तरीके से पढ़ाई होगी. इसको लेकर भागलपुर शिक्षा विभाग तैयारी में जुट गया है. 

आपको बता दें कि अब सरकारी विद्यालय में प्राइवेट में चलने वाली किताबों को पढ़ाया जाएगा. इसको लेकर जिला शिक्षा पदाधिकारी संजय कुमार ने शिक्षा विभाग को पत्र लिखा है. प्राइवेट के तर्ज पर चलने वाले किताबों को सरकारी विद्यालयों में चलाने की बात कही है. उन्होंने बताया कि इससे बच्चे को उच्च स्तरीय शिक्षा प्राप्त हो पाएगी.अब सरकारी विद्यालय के बच्चे भी स्मार्ट हो पाएंगे और प्राइवेट स्कूलों वाली शिक्षा ग्रहण कर पाएंगे.

डीईओ संजय कुमार ने कहा कि इससे बच्चों को लाभ मिलेगा. अगर सरकारी विद्यालय से प्राइवेट विद्यालय जाते हैं या प्राइवेट विद्यालय के बच्चे सरकारी विद्यालय में आते हैं तो उन्हें पढ़ाई करने में दिक्कत नहीं होगी. कई बार प्राइवेट विद्यालय में पढ़ने वाले छात्र बिहार बोर्ड से परीक्षा देना चाहते हैं. ऐसे में वो यहां नामंकन भी करा लेते हैं, लेकिन दोनों जगहों पर अलग किताब रहने से परेशानी होती है. अगर सभी जगहों पर एक किताब रहेगी तो आसानी से पढ़ाई कर पाएंगे.

अब कॉम्पिटिशन के स्तर की हो पाएगी पढ़ाई

डीईओ संजय कुमार ने  कहा कि छात्र को उस स्तर की शिक्षा नहीं मिल पाती है. जिससे कॉम्पिटिशन की तैयारी हो सके. विभाग ने किताब का नाम मांगा था. उन्हें नाम की सूची भेजी गई है. इससे छात्रों को कॉम्पिटिशन की तैयारी में भी परेशानी नहीं होगी. छात्रों को शुरू से ही विद्यालय में वो शिक्षा मिल पाएगी. जिससे बच्चों को कॉम्पिटिशन की तैयारी में भी परेशानी न हो.