Daesh News

कांग्रेस के अधीर रंजन समेत 33 सांसदों पर बड़ा एक्शन, पूरे सत्र के लिए हुए सस्पेंड

संसद के शीतकालीन सत्र की शुरुआत एक बार फिर सोमवार से हुई. शुरु में ही इस बात की उम्मीद जताई जा रही थी कि, आज का सत्र भी हंगामेदार होने वाला है और हुआ भी कुछ ऐसा ही. दरअसल, लोकसभा की कार्यवाही के दौरान विपक्ष की ओर से जमकर हंगामा किया गया, जिसके बाद विपक्ष के कई सांसदों पर कड़ा एक्शन लिया गया. जी हां, बड़ी खबर है कि, सांसदों के द्वारा हंगामे के बाद कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी सहित विपक्ष के 33 सांसदों को सस्पेंड कर दिया है. 

मंत्री प्रह्लाद जोशी ने पेश किया प्रस्ताव

बता दें कि, इन सांसदों को सस्पेंड करने का प्रस्ताव संसदीय मामलों के मंत्री प्रह्लाद जोशी ने पेश किया था, जिसे बाद में ध्वनिमत से मंजूर कर लिया गया. इन 33 सांसदों में से 30 सांसदों को सदन के पूरे शीतकालीन सत्र के लिए सस्पेंड किया गया है जबकि बाकी तीन के जयकुमार, विजय वसंत और अब्दुल खालिक को विशेषाधिकार समिति की रिपोर्ट आने तक सस्पेंड किया गया है. इन तीन सांसदों पर स्पीकर के पोडियम पर चढ़कर नारेबाजी करने का आरोप है. इससे पहले विपक्ष के कुल 14 सांसदों को सस्पेंड किया गया है. 

अब तक कुल 47 सांसद हुए सस्पेंड

बता दें कि, कुल मिलाकर देखा जाए तो शीतकालीन सत्र के दौरान अब तक 47 सांसदों को सस्पेंड किया गया है. इससे पहले 14 दिसंबर को जिन14 सांसदों को सस्पेंड किया गया था, उनमें से 13 लोकसभा और एक राज्यसभा सांसद थे. इन्हें भी संसद के पूरे शीतकालीन सत्र के लिए सस्पेंड किया गया था. वहीं, सांसदों को सस्पेंड करने का फैसला ऐसे समय में लिया गया है, जब 13 दिसंबर को संसद की सुरक्षा में सेंध लगाने के मामले पर विपक्षी सांसद लगातार सदन में विरोध कर रहे हैं.