Daesh News

बिहार में फिर आने वाली है 70 हजार शिक्षकों की नई वेकैंसी, होगी बंपर बहाली, तेजस्वी ने दी गारंटी!

बिहार में 70 हजार शिक्षकों की नई वैकेंसी आनेवाली है. 1 लाख 70 हजार 461 शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया अंतिम चरण में है. कक्षा 6 से 12 तक 70 हजार शिक्षक भर्ती की वैकेंसी शिक्षा विभाग इसी सप्ताह बिहार लोक सेवा आयोग को भेजेगा. खाली पदों की लिस्ट बीपीएससी को शिक्षा विभाग दे देगा. बिहार में शिक्षक नियुक्ति को लेकर जिलों से आरक्षण रोस्टर भी क्लीयर हो चुका है. राज्य में 70 हजार शिक्षकों की रिक्ति इसी सप्ताह आने का अनुमान है. 

माना जा रहा है कि नई नियमावली के तहत दूसरे चरण में शिक्षकों की भर्ती के लिए नोटिफिकेशन दो सप्ताह में आ जाएगा. जानकारी के अनुसार जिलों से आरक्षण रोस्टर के हिसाब से मिली रिक्ति को शिक्षा विभाग कंपाइल करने में जुटा है. कहा जा रहा है कि 15 दिन में वैकेंसी भी आ जाएगी. विषयवार अंतिम रूप से लिस्ट फाइनल की जा रही है.

बता दें कि शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक ने पिछले हफ्ते समीक्षा कर रिक्ति फाइनल कर बीपीएससी को भेजने का निर्देश दिया था. अलग-अलग जिलों से रोस्टर क्लीयर होने में देरी मामले पर अपर मुख्य सचिव ने डीएम से सहित विभागीय अधिकारियों से बात भी की थी.

बिहार लोक सेवा आयोग पिछली बार की तरह ही इस बार भी अभ्यर्थियों को जरूरी डॉक्यूमेंट जुटाने के लिए समय देगा. आवेदन के लिए लगभग एक महीने का समय अभ्यर्थियों को दिया जाएगा. फिलहाल 1 लाख 70 हजार शिक्षक भर्ती के लिए ली गई परीक्षा का रिजल्ट कभी आ सकता है. बीपीएससी सबसे पहले 11वीं-12वीं के शिक्षक भर्ती का रिजल्ट जारी करेगा. इसके बाद कक्षा 9-10 के शिक्षक भर्ती का परिणाम आएगा. सबसे आखिर में कक्षा 1 से 5 तक के प्राथमिक शिक्षक भर्ती परीक्षा का रिजल्ट जारी होने का अनुमान है.

बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की ऑफिस की ओर से ट्वीट कर कहा गया कि 1 लाख 70 हजार 461 शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया अंतिम चरण में है. डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन कार्य शुरू है. जल्दी ही 70 हजार से अधिक शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया शुरू होगी.

फिलहाल 1 लाख 70 हजार शिक्षक भर्ती में 9वीं से 12वीं तक के पदों में जो नहीं भरे जा सकेंगे वे पद दूसरे चरण की वैकेंसी में जुड़ जाएंगे. इस हिसाब से दूसरे चरण में शिक्षक भर्ती की रिक्ति 70 हजार से बढ़कर एक लाख या इससे अधिक भी हो सकती है. प्रथम चरण की शिक्षक नियुक्ति में 11वीं-12वीं में लगभग 57 हजार रिक्ति थी, इसमें कुल आवेदक ही 42 हजार हैं. सभी पद नहीं भरने की स्थिति में ये पोस्ट दूसरे चरण की वैकेंसी में जुड़ेंगे. कक्षा 9 और 10 में भी विषयवार रिक्ति की तुलना में अभ्यर्थियों की पर्याप्त संख्या नहीं रहने से पद रिक्त रहेंगे. ये पद भी नई वैकेंसी में जुड़ेंगे.

सेकेंड फेज में शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थियों को परीक्षा की तैयारी के लिए ज्यादा समय नहीं मिलेगा. आयोग का लक्ष्य है कि नवंबर अंत या 15 दिसंबर तक परीक्षा लेकर दिसंबर अंत तक रिजल्ट भी जारी कर दे. हालांकि, 15 दिसंबर तक परीक्षा आयोजित होने की स्थिति में रिजल्ट जारी होने में लगभग एक महीने का समय लग जाएगा.