Daesh News

बिहार में दारोगा की हत्या पर मंत्री चंद्रशेखर के बेशर्म बोल- ऐसी घटनाएं होती रहती हैं, पहली बार नहीं हुआ

जमुई में बालू माफिया ने ट्रैक्टर से कुचलकर दारोगा की हत्या कर दी. इस सनसनीखेज कांड को लेकर सियासी पारा चढ़ा हुआ है. विपक्षी पार्टियां नीतीश सरकार पर हमलावर हैं. इसी बीच बिहार सरकार में शिक्षा मंत्री चंद्रशेखर ने बेतुका बयान दिया है. उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाएं होती रहती हैं, ये कोई नई बात नहीं हैं. उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश में ऐसी घटनाएं हुई हैं. पहले भी ऐसी घटनाएं होती रही हैं. अपराधी हैं तो ऐसी घटनाएं होंगी ही. शिक्षा मंत्री ने कहा दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. पुलिस मामले में कार्रवाई करेगी.

चंद्रशेखर करने लगे यूपी-एमपी का जिक्र

जमुई में दारोगा प्रभात रंजन की हत्या पर बोलते हुए मंत्री चंद्रशेखर ने कहा कि मामले में कार्रवाई की जाएगी. दोषियों को सजा दिलाई जाएगी. जब उनसे जमुई की घटना पर सवाल किया गया तो वो यूपी-मध्य प्रदेश का जिक्र करने लगे. उन्होंने कहा कि अच्छा ये घटना पहली बार हुई है. उत्तर प्रदेश में नहीं हुई, मध्य प्रदेश में नहीं हुई है. ऐसी घटनाएं समय पर होती है लेकिन अपराधी कितना दिन बच पाते हैं. किसी को मार दोगे इसका प्रतिफल क्या होता है 24 घंटा या 48 घंटा में अपराधी जेल में होते हैं. फिर शिनाख्त और सजा होती है.

जमुई में दारोगा प्रभात रंजन की हत्या

बिहार में विपक्ष रेत माफियाओं को लेकर आवाज उठाता रहा है. इस बीच माफियाओं के हौसले इस कदर बुलंद हैं कि लगता है उन्हें अब पुलिस का डर ही नहीं. जमुई जिले में अवैध रेत से लदे एक ट्रैक्टर ने दारोगा को कुचल दिया जिससे उनकी मौत हो गई. पुलिस के मुताबिक, गरही थाना की पुलिस मंगलवार को सुबह गश्त पर थी, इसी दौरान रोपावेल के समीप पुलिस ने बालू से लदे एक ट्रैक्टर को आते देखा.

बालू माफिया ने ट्रैक्टर से कुचलकर मार दिया

पुलिस ने ट्रैक्टर को जांच के लिए रुकने का इशारा किया, लेकिन ट्रैक्टर ड्राइवर ने इसकी रफ्तार तेज करते हुए पुलिस टीम की ओर बढ़ा दिया. इस घटना में दारोगा प्रभात रंजन की घटना स्थल पर ही मौत हो गई जबकि पुलिस जवान राजेश कुमार साव गंभीर रूप से घायल हो गए. घायल जवान को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. मृतक 2018 बैच के दारोगा थे.