Daesh News

फिर धोखा दे गई बिहार पुलिस की रायफल, 11 में से 9 हो गई फुस्स

बिहार पुलिस आये दिन किसी ना किसी मुद्दे को लेकर चर्चे में रहती है. ऐसा मामला सामने आ जाता है, जिसके बाद बिहार पुलिस को फजीहत झेलनी पड़ती है. इसी क्रम में एक और मामला सामने आ गया है. दरअसल, खबर रोहतास जिला से है जहां, करगहर में बिहार सरकार के पूर्व मंत्री रामधनी सिंह के अंत्येष्टि के दौरान राजकीय सम्मान को लेकर जब राइफल से फायरिंग की जाने लगी तो 11 में से मात्र दो राइफल से ही फायर हो सकी. बाकी 9 राइफल से फायर नहीं हो सका.

डीएम और एसपी भी रहे मौजूद 

बता दें कि, इस दौरान DM नवीन कुमार और SP विनीत कुमार भी मौजूद रहे. लेकिन, सिर्फ दो ही रायफल फायर हो सके और उसी को सभी फायर मान लिया गया और उसके बाद अंत्येष्टि की शुरुआत की गई. बताते चलें कि, पहले भी बिहार सरकार की राइफल कई मौकों पर धोखा दे चुकी है. खासकर अंत्येष्टि के दौरान कई बार बिहार सरकार के पुलिस की राइफल फेल हो चुकी है. इस बार रोहतास जिला के करगहर के देव खैरा गांव में यह दृश्य देखने को मिली. अब आप समझ सकते हैं कि एक तरफ पुलिस को हाईटेक करने की बात चल रही है. वहीं, दूसरी ओर पुलिस की राइफल से फायरिंग नहीं हो पा रही है.

काफी मशक्कत के बाद भी नहीं हो पाई फायर 

इस दौरान रायफल से फायरिंग करने के लिए काफी मशक्कत की गई लेकिन इसके बावजूद भी फायरिंग नहीं हो सकी. मात्र दो राइफल से ही फायरिंग हो सके, जबकि मौके पर रोहतास के आरक्षी अधीक्षक विनीत कुमार भी मौजूद रहे. बता दें कि, पूर्व मंत्री रामधनी सिंह का पटना में निधन हो गया था. जिसके बाद आज राजकीय सम्मान के साथ उनकी अंत्येष्टि उनके पैतृक गांव में की गई. इस दौरान राजकीय सम्मान की घोषणा की गई थी. लेकिन, जब बंदूक से सलामी दी जाने लगी तो मात्र दो फायर ही हो सका. बाकी 9 फायर नहीं हो सकी.