Daesh News

केके पाठक का BPSC पास टीचरों को एक और तोहफा, अब स्कूल के निकट में ही मिलेगा 3 कमरे का आवास

बिहार में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक की ओर से बीपीएससी पास नवनियुक्त शिक्षकों को एक और तोहफा देने का निर्णय लिया गया है. शिक्षा विभाग की ओर से विभिन्न सरकारी स्कूलों में कार्यरत शिक्षकों को स्कूल के निकट ही तीन कमरे का आवास उपलब्ध कराने की योजना बनाई गई है. इसे लेकर विभाग की ओर से आवश्यक तैयारियां शुरू कर दी गई है.

शिक्षकों की इच्छा के अनुसार आवास का निर्माण

नवनियुक्त बीपीएससी शिक्षकों को मकान उपलब्ध कराने को लेकर जिला शिक्षा कार्यालय की ओर से सभी शिक्षकों को पत्र भेजा गया है. आवास के लिए नवनियुक्त शिक्षकों को पहले आवेदन पत्र के जरिए अपनी इच्छा बतानी होगी. उन्हें तीन कमरों तक का आवास मिल सकता है. शिक्षक चाहें तो दो या एक कमरे का भी घर ले सकते हैं. शिक्षक अपने आवेदन पत्र में जिस तरह की जानकारी देंगे, उसी के अनुसार शिक्षा विभाग की ओर से उनके लिए आवास का निर्माण कराया जाएगा.

आवास भत्ता की जगह अब मिलेगा मकान

शिक्षा विभाग की ओर से अब तक शिक्षकों को आवास भत्ता दिया जाता है. लेकिन आवास भत्ता लेने के बावजूद कई शिक्षक स्कूल से काफी दूर रहते हैं. इस समस्या के समाधान के लिए अब शिक्षा विभाग की ओर से स्कूल के तीन किलोमीटर के दायरे में आवास देने की तैयारी की जा रही है. इससे शिक्षक स्कूल के पास रहेंगे और समय पर पहुंचेंगे.

आवास को लेकर शिक्षकों के पास 3 विकल्प

शिक्षा विभाग की ओर से आवास को लेकर शिक्षकों को तीन विकल्प उपलब्ध कराए गए है. पहले विकल्प में एक, दो और तीन कमरे का आवास शामिल है. वहीं शिक्षक चाहे तो अपना मकान दूसरे शिक्षक के साथ भी साझा कर सकते हैं. वहीं शिक्षकों के पास एक विकल्प भी है कि वे शिक्षा विभाग की ओर से उपलब्ध कराए गए मकान में रहना चाहते हैं या नहीं.

मकान देने की प्रक्रिया शुरू

पटना के डीईओ अमित कुमार ने बताया कि मकान देने की प्रक्रिया शुरू है. उन्होंने बताया कि शिक्षकों से जानकारी मांगी गई है. सभी को आवेदन देना होगा. इसके बाद विभाग की ओर से जगह चिह्नित कर मकान बनवाया जाएगा.