Daesh News

Bihar Train Accident: जब मैं रेल मंत्री था! आफत पर सियासत भारी, नीतीश कुमार और सम्राट चौधरी आमने-सामने

बिहार के बक्सर जिले के रघुनाथपुर रेलवे स्टेशन के पास नॉर्थ-ईस्ट एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त हो गई. इसके बाद इस पर सियासत शुरू हो गई है. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने कहा कि हादसे में भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को राजनीति सूझ रही है. सम्राट चौधरी रघुनाथपुर पहुंचे और घटनास्थल का जायजा लिया. उन्होंने अस्पताल में भर्ती घायलों से भी मुलाकात की. हादसे में चार लोगों की मौत पर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने शोक संवेदना प्रकट की है. साथ ही बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को घेरा.

सम्राट ने किया रेलवे का बचाव

सम्राट चौधरी ने कहा कि दुर्घटना के बाद ही रेलवे ने तत्काल राहत और बचाव कार्य प्रारंभ कर दिया। उन्होंने आगे कहा कि कोई भी हादसा दुखदाई होता है, लेकिन बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को इस हादसे पर भी राजनीति सूझ रही है.

भाजपा नेता ने कहा कि घटना के 12 घंटे के बाद नीतीश कुमार ने इस हादसे को लेकर संवेदनाएं व्यक्त की, जो उनकी संवेदनहीनता को दर्शाता है और अब वे नसीहत दे रहे. रेलवे ने तत्काल हादसे में मरने वाले आश्रितों को 10-10 लाख रुपए, गंभीर रूप से घायलों को 2-2 लाख रुपए और घायलों को 50-50 हजार रुपए दिए. इसके साथ ही घटनास्थल पर फंसे यात्रियों को विशेष ट्रेन की व्यवस्था कर रात में ही गंतव्य की ओर रवाना किया.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने हादसे के बाद राहत और बचाव कार्य के लिए पहुंचे भाजपा कार्यकर्ताओं और ग्रामीणों को भी धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि हादसे के बाद भाजपा के कार्यकर्ता और ग्रामीण सबसे पहले पहुंचे और राहत कार्य शुरू किया. इसके बाद पुलिस और जिला प्रशासन पहुंचा. एसडीआरएफ तो काफी विलंब से पहुंचा.

नीतीश ने गिनाई खामियां

दूसरी तरफ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रेल हादसे में जान गंवाने वाले मृतकों के परिजनों के लिए चार-चार लाख और सभी घायलों का इलाज राज्य सरकार की ओर से कराए जाने की घोषणा की.

नीतीश कुमार ने रेल हादसे को लेकर केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के समय में केंद्र सरकार में मैं रेल मंत्री था, उस दौरान मैंने रेलवे में एक-एक काम बढ़िया से करवाया था, जिसकी वजह से रेल हादसों में काफी कमी आई थी, उन लोगों को भी इस पर ध्यान देना चाहिए.

ट्रेन हादसे की जांच शुरू

वहीं, पूर्व मध्य रेलवे (ईसीआर) ने गुरुवार को बिहार के रघुनाथपुर में नॉर्थ-ईस्ट एक्सप्रेस ट्रेन के पटरी से उतरने की घटना की उच्च स्तरीय जांच शुरू कर दी है. प्रारंभिक जांच में पता चला कि ट्रैक कुछ जगहों पर उखड़ा हुआ था. अधिकारियों ने दावा किया कि ऐसी बात दुर्घटना से पहले या बाद की संभावना हो सकती है.

तरुण प्रकाश, महाप्रबंधक, पूर्व मध्य रेलवे ने कहा कि इस तरह की ट्रेन दुर्घटना की जांच करने का रेलवे का अपना तरीका है. हमने इस दुर्घटना की जांच के लिए एक उच्च स्तरीय तकनीकी समिति का गठन किया है. पटरी टूटी थी या नहीं, ये अभी नहीं कहा जा सकता. जांच रिपोर्ट के निष्कर्षों के बाद ही वास्तविक स्थिति का पता लगाया जाएगा.

कई यात्रियों ने दावा किया कि उन्होंने लगभग दो किमी पहले ही रघुनाथपुर रेलवे स्टेशन के पास ट्रेन के पटरी से उतरने की आवाज सुनी थी. बुधवार रात करीब 9.53 बजे नॉर्थ-ईस्ट एक्सप्रेस ट्रेन रघुनाथपुर रेलवे स्टेशन के पास पटरी से उतर गई. रेलवे के सीपीआरओ वीरेंद्र कुमार ने दावा किया कि इस दुर्घटना में चार लोगों की जान चली गई और 30 घायल हो गए.