Daesh News

Bihar weather: बिहार के लोगों को क्यों ठंड में भी हो रहा गर्मी का एहसास? मौसम विभाग ने बताया

बिहार का मौसम लगातार आंख मिचौली खेल रहा है. पिछले कुछ दिनों से ठंड से राहत मिली है. वहीं आइएमडी बिहार व मौसम वैज्ञानिक से मिली जानकारी के अनुसार ठंड हवा मध्य भाग में सक्रिय हो चुकी है, जहां एंट्री साइक्लोन सर्कुलेशन की स्थिति बनने पर ट्रैप हो गया है. इसके अलावा अगले चार दिनों तक दिन व रात में दो से चार डिग्री तापमान में बढ़ोतरी होगी. अभी पुरवा हवा से फिलहाल सर्दी से राहत मिलेगी. लेकिन मौसम विभाग ने बताया है कि बिहार में ठंड कब से बढ़ने लगेगी.

अगले पांच दिनों का मौसम पूर्वानुमान

मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से जारी पूर्वानुमान के अनुसार अगले पांच दिनों तक मौसम में कोई विशेष परिवर्तन नहीं होगा. मौसम आमतौर पर सामान्य बना रहेगा और शहर के तापमान में वृद्धि हो सकती है. फिलहाल पटना सहित पूरे राज्य में हवा का रुख बदल गया है. बीते दो दिनों से अब पुरवा हवा चल रही है. इसके कारण तापमान में गिरावट नहीं हो रही. शनिवार को भी शहर के न्यूनतम और अधिकतम तापमान में चार डिग्री सेल्सियस की वृद्धि दर्ज की गयी. न्यूनतम तापमान 14.3 और अधिकतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण मौसम में परिवर्तन हुआ है. फिलहाल राज्य में समुद्र तल से 1.5 किमी की रफ्तार से पुरवा हवा का प्रवाह चल रहा है.

26 दिसंबर से ठंडक में होगी बढ़ोतरी, छाये रहेंगे बादल

भागलपुर जिले के मौसम में शुक्रवार को आंशिक बदलाव आया. सुबह में आसमान में बादल छाये रहे. तापमान बढ़ने से लोगों को ठंडक का अहसास कम हुआ. नौ बजे के बाद धूप खिलने से ठंड और कम हो गया. न्यूनतम तापमान 8.5 डिग्री व अधिकतम तापमान 24 डिग्री रहा. उत्तर दिशा से हवा चलती रही. हवा में प्रदूषण की मात्रा काफी अधिक रही. शहर का अधिकतम एयर क्वालिटी इंडेक्स 424 रिकॉर्ड किया गया. बीएयू के ग्रामीण कृषि मौसम सेवा के नोडल पदाधिकारी डॉ सुनील कुमार ने बताया कि 24 से 25 दिसंबर के बीच भागलपुर में तापमान सामान्य रहेगा. 26 से तापमान में हल्की कमी आ सकती है. इस दौरान दिन में धूप निकलेगी. सुबह में हल्का कोहरा रह सकता है. फिलहाल शीतलहर व कड़ाके की ठंड से लोगों को राहत मिलेगी. अभी बारिश की संभावना नहीं है, आसमान में आंशिक बादल छाये रह सकते हैं. इस दौरान पूर्वी हवा चलने की संभावना है.

गया व आसपास धूप में भी सर्द हवा, कनकनी बरकरार

मौसम में हर रोज आ रहे उतार-चढ़ाव के बीच तापमान भी कभी उपर जा रहा, तो कभी लुढ़क कर नीचे चला आ रहा रहा है. शुक्रवार की तुलना मेंगया जिलेके न्यूनतम पारा मेंकुछ अजीब सा उछाल आया है. न्यूनतम पारा करीब साढ़े पांच डिग्री उपर चला गया, पर कनकनी बरकरार रही. शनिवार को न्यूनतम पारा 12.6 डिग्री व अधिकतम तापमान 25.6 डिग्री सेल्सियस रहा जबकि शुक्रवार को गया का न्यूनतम पारा 7.0 डिग्री व अधिकतम पारा 24.0 डिग्री रहा था. गुरुवार को न्यूनतम पारा 6.3 डिग्री व अधिकतम पारा 24.0 डिग्री रहा था. सर्दी के इस मौसम का अब तक का सबसे कम तापमान यानी सर्द दिन विगत मंगलवार रहा था जब न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री व अधिकतम तापमान 25.6 डिग्री सेल्सियस रहा था. शनिवार को सुबह की आर्द्रता 87 प्रतिशत जबकि शाम की आर्द्रता 65 प्रतिशत रही. तापमान उपर जरूर गया हैपर कनकनी बरकरार है. धूप में भी सर्द हवा के बहने की वजह से गर्माहट महसूस नहीं की गयी. मौसम विभाग की माने तो इस पूरे सप्ताह में न्यूनतम पारा सात से 11 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहने की संभावना जतायी गयी है.

मौसम वैज्ञानिक भी आश्चर्य में..

दिसंबर माह में कड़ाके की ठंड हर साल पड़ती है. लेकिन इन दिनों दिन का तापमान बढ़ने से किसान परेशान है. वहीं मौसम वैज्ञानिक भी आश्चर्य में है. आइएमडी बिहार व मौसम वैज्ञानिक से मिली जानकारी के अनुसार ठंड हवा मध्य भाग में सक्रिय हो चुकी है, जहां एंट्री साइक्लोन सर्कुलेशन की स्थिति बनने पर ट्रैप हो गया है. इसके अलावा अगले चार दिनों तक दिन व रात में दो सेचार डिग्री तापमान में बढ़ोतरी होगी. शुक्रवार को मोतिहारी में सुबह 06 बजे 11 डिग्री रहने वाला तापमान शनिवार की सुबह 13 से 14 डिग्री पर था.

नए साल में ठंड में होगी बढ़ोतरी..

डॉ राजेन्द्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के कृषि वैज्ञानिक डॉ सत्तार ने बताया कि तापमान बढ़ने की स्थिति तीन से चार दिनों तक रहेगी. पूछने पर बताया कि तापमान बढ़ा तो गेहूं फसल को क्षति होगी. संभावना यह भी जतायी है कि साल के अंत तक यानि 29 से 30 दिसंबर से मौसम ठंडा होगा. दिन में धूप निकलने से लोगों को राहत मिलेगी, लेकिन शाम के समय सर्दी का सितम तेज होगा. मौसम विभाग के अनुसार साल के आखिरी दिनों में पहाड़ों पर बर्फबारी हो सकती है और मौसम में बदलाव होगा. मौसम वैज्ञानिक डॉ सत्तार के अनुसार वर्तमान में दिन में बादल छाये रह सकते हैं, लेकिन ठंड अपेक्षाकृत कम होगा.

3 शहरों की हवा हुई खराब..

इधर, शनिवार को प्रदेश के दस शहरों में से तीन का एक्यूआइ 300 के पार दर्ज किया गया. इसमें भागलपुर का बहुत खराब स्थिति में एक्यूआइ 341 दर्ज किया गया. वहीं, राजधानी की वायुगुणवत्ता की स्थिति में सुधार दर्ज किया गया. यहां पिछले दिनों शहर का एक्यूआइ 324 था. वहीं शनिवार को 290 दर्ज किया गया. राजधानी में समनपुरा इलाके का सबसे खराब 354 और दानापुर का 344 एक्यूआइ दर्ज किया गया. इसके अलावा तारामंडल का 227, शिकारपुर का 188 और राजवंशी नगर का 259 एक्यूआइ दर्ज किया गया.