Daesh News

बिहार के इन जिलों में भारी बारिश को लेकर येलो अलर्ट, जानें आपके जिले में कैसा रहेगा मौसम

बिहार के सुपौल, अररिया और किशनगंज जिले में कई स्थानों पर भारी बारिश के बाद अब कई अन्य जिलों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग के अनुसार राज्य में पिछले 24 घंटे में सबसे अधिक 292 मिलीमीटर बारिश सुपौल जिले के बसुआ में दर्ज की गई. वहीं, खगड़िया, सहरसा, कटिहार, किशनगंज में भी कई स्थानों पर 230 मिलीमीटर से लेकर 101 वर्षा दर्ज की गई. मधेपुरा के सिद्धेश्वर, सुपौल में 217, कटिहार के बराई में 212, सहरसा के सोनबरसा में 192, अररिया के रानीगंज में 183, सुपौल के निर्मली में 166, किशनगंज में 165, पूर्णिया के अमौर में 164, अररिया में 161, जोरहट में 155 औ सिकटी में 146 मिलीमीटर बारिश हुई.

किशनगंज, मुजफ्फरपुर और मधेपुरा समेत कई जिलों में जलजमाव

मौसम विभाग की ओर से अगले 24 घंटे में उत्तर-मध्य और उत्तर-पूर्वी जिलों में बारिश और वज्रपात की आशंका जताई गई है. लगातार बारिश के चलते किशनगंज, सुपौल, मधेपुरा, मुजफ्फरपुर के कई इलाकों में भारी जलजमाव की स्थिति बनी हुई है. इधर, जमुई जिले में बारिश के चलते गढ़ी थाना क्षेत्र अंतर्गत मुख्य मार्ग पर गोहदा नदी पर पुल धंस जाने से वाहनों की आवाजाही बंद कर दी गई है. यह सड़क मार्ग प्रसिद्ध जैन मंदिर को जमुई से जोड़ता है.

बिहार में अब तक 747.2 मिलीमीटर बारिश

बिहार में 1 जून से 24 सितंबर के बीच सामान्य से 21 प्रतिशत कम बारिश हुई है. मौसम विभाग के आंकड़ों के अनुसार राज्य में इस दौरान 949.4 मिलीमीटर औसत बारिश की जगह अब तक 747..2 मिलीमीटर बारिश हुई. हालांकि पिछले दो-तीन दिनों में राज्य के विभिन्न हिस्सों में हुई अच्छी बारिश से कमी की काफी हद तक भरपाई हो सकी है. अब बिहार में सामान्य मानसून की स्थिति बन रही है.

सुपौल, अररिया, किशनगंज और पूर्णिया में भारी बारिश की चेतावनी

मौसम विभाग की ओर से अगले 24 घंटे में राज्य के चार जिले सुपौल, अररिया, किशनगंज और पूर्णिया में भारी बारिश को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है. इसके अलावा 11 जिले सीतामढ़ी, शिवहर, मुजफ्फरपुर, वैशाली, मधुबनी, दरभंगा, समस्ती, सहरसा, मधेपुरा और कटिहार जिले में भी बारिश-वज्रपात को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है. वहीं 26 से 29 सितंबर के दौरान भी राज्य के कई हिस्से में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होगी. लेकिन इसे लेकर मौसम विभाग की ओर से किसी तरह का अलर्ट जारी नहीं किया गया है.