Daesh News

खेत-खलिहान में पहुंची BJP विधायक, किसानों को मुआवजा देने की कही बात

एक तरफ जहां बिहार के जिलों में इस बार मानसून की सक्रियता काफी कम रही. नतीजन, बारिश कम हुई. बारिश कम होने के कारण आम लोगों को तो परेशानी हुई ही लेकिन उनके साथ-साथ किसानों को ज्यादा परेशानी झेलनी पड़ी. बारिश कम होने का असर सीधे किसानों के फसल पर पड़ा. ऐसे में किसानों को मदद के लिए सिर्फ और सिर्फ आस सरकार से ही रह गई. तो वहीं दूसरी तरफ पश्चिम चंपारण में चीनी मिलों से किसान परेशान हैं. जिसके बाद बीजेपी विधायक किसानों का हाल-चाल जानने के लिए पहुंच गई है. इस दौरान जिला कृषी पदाधिकारी भी मौजूद रहे और इसके साथ ही किसानों को हर संभव मदद करने का आश्वासन भी दिया गया. 

दरअसल, यहां मामला यह है कि हरिनगर चीनी मिल की ओर से कथित तौर पर बहाए गए विषाक्त जल की वजह से चतुर्भुजवा गांव के सैकड़ों एकड़ फसल नष्ट हो गए. जिसके बाद से किसानों में रोष व्याप्त है. किसानों की बर्बाद फसल का जायजा लेने के लिए आज जिला कृषि पदाधिकारी प्रवीण कुमार राय के साथ स्थानीय विधायक रश्मि वर्मा पहुंची. टीम ने फसल क्षति का अवलोकन किया. वहीं, किसानों से बर्बाद हुए धान की फसल के बारे में आवश्यक जानकारी ली. जिला कृषि पदाधिकारी प्रवीण कुमार राय ने विधायक के समक्ष उचित जांच कराने और हर संभव मदद करने का आश्वासन दिया.

इस दौरान उन्होंने कहा कि, यहां जिन किसानों का फसल क्षति हुआ है, एक टीम गठित कर सभी किसानों की सूची तैयार कराई जाएगी. जिसे वरीय अधिकारियों को भेजा जाएगा. किसानों ने हरिनगर चीनी मिल प्रबंधन पर नदी में विषाक्त जल बहाने का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन भी किए हैं. वहीं, स्थानीय भाजपा विधायक रश्मी वर्मा ने बताया कि, किसान हमारे अन्नदाता हैं. रामनगर चीनी मिल द्वारा जो रसायन युक्त जल छोड़ा गया है, उसकी जांच करा सरकार द्वारा जो भी किसानों के फसल की क्षति हुई है, उसका आकलन करा कर उचित मुआवजा दिया जायगा.

बेतिया से आशीष कुमार की रिपोर्ट