Daesh News

CM नीतीश के बयान पर चिराग हुए गंभीर, इस बात को लेकर कहा खुलकर चर्चा होनी चाहिए

बिहार विधानसभा में दिए अपने बयान को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार चौतरफा घिरे हुए दिख रहे हैं. बयान की आलोचना और नीतीश कुमार पर हमले के साथ हर कोई मुख्यमंत्री के ज्ञान से हैरान है. इधर, लोजपा (रामविलास) के सुप्रीमो चिराग पासवान, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बयान को लेकर गंभीर दिखे. इसके साथ ही उन्होंने बड़ी गंभीरता से नसीहत दे डाली है. दरअसल, चिराग पासवान हाजीपुर पहुंचे थे जहां उन्होंने एक भव्य कार्यक्रम में शिरकत की और इसके साथ ही विशाल जनसभा को संबोधित भी किया. इस दौरान लोगों का बड़ा हुजूम दिखा. 

वहीं, चिराग पासवान इस दौरान मीडिया से मुखातिब भी हुए. इस दौरान चिराग पासवान से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा दिए गए बयान को लेकर सवाल किया गया. इस सवाल को सुनकर चिराग पासवान ने आलोचना या हमला करने के बजाये इसे गंभीर मानसिक समस्या बताया. चिराग ने कहा कि, मुख्यमंत्री को इलाज की जरुरत है और ये मैं व्यंग कसने या ताना देने के लिए नहीं बोल रहा हूं बल्कि हकीकत में मैं मानता हूं. आज की तारीख में मेन्टल हेल्थ को लेकर खुलेआम चर्चा होनी जरुरी है. बड़े-बड़े अभिनेता और अभिनेत्री खुलेआम लोग अपने मेन्टल हेल्थ पर बात करते हैं. ऐसे में एक उम्रदराज मुख्यमंत्री सिर्फ सत्ता के लालच में अपनी बिमारी का इलाज नहीं कराये ये ठीक नहीं है.

बता दें कि, विधानसभा में सत्र के दौरान सीएम नीतीश कुमार ने प्रजनन दर को लेकर विवादित बयान दिया था. जिसको लेकर लगातार सियासी घमासान मचा हुआ है और बयानबाजी का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा. हालांकि, बुधवार को सीएम नीतीश ने अपने दिए गए बयान को लेकर माफी मांगी और कहा कि, अगर मेरी बात से किसी को ठेस पहुंची है तो मैं माफी मांगता हूं. मैं खुद अपनी निंदा करता हूं. लेकिन, इसके बावजूद सियासत में बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है. बीजेपी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के इस्तीफे की मांग पर अड़ गई. तो वहीं चिराग पासवान ने भी गंभीरता जताई.

हाजीपुर से अभिषेक कुमार की रिपोर्ट