Daesh News

चिराग पासवान का बयान

राहुल गांधी के pm पर दिये ब्यान पर चिराग ने कहा  प्रधानमंत्री जी को 140 करोड़ देशवासियों जिस तरह से गरीब कल्याणकारी की योजनाओं से उनका मुख्य धारा के साथ जोड़ने का काम किया है जिन लोगों ने गरीबी हटाओ के नारे को देते रहे पर गरीबी हटाना तो दूर गरीबों को हटाने के लिए इन लोगों ने रणनीतियां तैयार करने शुरू की आज मेरे प्रधानमंत्री का साथ क्यों गांव में बैठी वह महिलाएं नहीं देगी इसके लिए उन्होंने शौचालय बनाया क्यों वह महिलाएं साथ् नहीं देगी जिनके लिए उज्वला के माध्यम से इन्होंने गैस कनेक्शन देने का काम किया आज से पहले बीमारी घर में आती थी तो लोग अपनी जमीन गिरवी रखकर महिला अपने जेवर के व्यक्ति से वह परिवार जिनको पांच-पांच लाख रुपये आयुष्मान के माध्यम से मुख्य इलाज मिला क्यों वह मेरे प्रधानमंत्री का साथ नहीं देगा वह 81 करोड लोग जिनका प्रतिमाह् 5 किलो अनाज प्रति व्यक्ति हर महीने मिल रहा है क्यों वह मेरे प्रधानमंत्री का साथ नहीं देगा वह गरीब किसान जिसको किसान सम्मन निधि के द्वारा डायरेक्ट खाते में पैसे आ रहा है क्यों वह मेरे प्रधानमंत्री का साथ जब मेरे प्रधानमंत्री ने देश के बड़ी आबादी के लिए जब इतने कार्य किए हैं तो यह विश्वास हम लोगों का है और इस विश्वास को वह लोग नहीं समझ पाएंगे जिन लोगों ने इन लोगों को सिर्फ लूटने का काम किया है लगातार गर्मी के कारण स्कूलों में बच्चे परेशान हो रहे हैं इस पर चिराग पासवान ने कहा कि यह गंभीर विषय है इसे गंभीरता से लेना चाहिए अगर कहीं पर भी कोई लापरवाही है इस बात को बिहार सरकार सुनिश्चित करें ऐसी घटना जिस तरीके से स्वाभाविक रूप से गर्मी बढ़ रही और बच्चों के स्कूल में इस तरह की व्यवस्था होनी चाहिए अगर छुट्टी की घोषणा करनी करनी चाहे तो वह भी करनी चाहिए जो भी अधिकारी इसमें है बाधक है उसे पर भी कार्रवाई करनी चाहिए ममता जी के पास अपने राज्य की बड़ी जिम्मेदारी है अपने प्रदेश के लोगों की पहले वह चिंता कर ले संविधान के अधिकार देता है संघीय ढांचे के तहत ऐसे में अपने प्रदेश में हो रही खूनी झरभ अपने प्रदेश में जिस तरीके से लोगों में है उसकी चिंता अगर ममता बनर्जी करें तो संभवत उनका प्रदेश भी मुख्य धारा के साथ जोड़कर प्रधानमंत्री जी की सोच के साथ विकास की राह पर बढ़ सकता है।

Scan and join

Description of image