Daesh News

CM नीतीश ने फिर खोला खुशियों का खजाना, शिक्षक और कर्मचारियों के लिए जारी किये करोड़ों रुपये

एक तरफ जहां 2024 में लोकसभा चुनाव होने वाला है तो वहीं दूसरी तरफ त्योहारों का सीजन शुरू होने वाला है. लेकिन, इससे पहले प्रदेश के मुखिया नीतीश कुमार फुल ऑन एक्टिव मोड में आ गए हैं. दरअसल, सीएम नीतीश कुमार ने राज्य के शिक्षक और कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है. सीएम ने उनके सैलरी को लेकर बड़ी रकम जारी कर दी है. करोड़ों में रुपये मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ओर से जारी की गई है. 

  

शिक्षा विभाग ने जारी किये 246. 35 करोड़ 

जानकारी के मुताबिक, बिहार के सभी पारंपरिक विश्वविद्यालयों के लिए शिक्षा विभाग की ओर से 246. 35 करोड़ की राशि जारी की गई है. इस राशि में से विश्वविद्यालयों के शिक्षक और शिक्षकेतर कर्मचारियों को पिछले महीने यानी कि अगस्त का वेतन और रिटायर्ड शिक्षकों और कर्मचारियों को अगस्त महीने के ही सेवांत लाभ का भुगतान किया जायेगा. वहीं, शिक्षा विभाग के द्वारा जो प्रपत्र जारी किया गया है उसके मुताबिक, जो राशि दी गई है उनमें से 125 करोड़ 78 लाख 38 हजार 50 रुपये की राशि वेतन मद में 13 विश्वविद्यालयों को मिले हैं. इसके अलावा 120 करोड़ 57 लाख 45 हजार 247 रुपये की राशि सेवांत लाभ मद में 10 विश्वविद्यालयों को मिले हैं. इसके साथ ही उच्च शिक्षा निदेशक रेखा कुमारी के हस्ताक्षर के बाद सभी 13 पारंपरिक विश्वविद्यालयों को राशि जारी कर दी गई है. 

त्योहार से पहले सीएम नीतीश ने खोला खुशियों का खजाना 

बता दें कि, एक ओर जहां शिक्षा विभाग की ओर से करोड़ों रुपये शिक्षकों और कर्मचारियों के लिए जारी किये गए हैं. वहीं, इससे पहले कैबिनेट की बैठक के बाद शिक्षकों के लिए खुशियों का पिटारा भी खोला था. दरअसल, राज्य में दूसरे चरण के तहत कुल 69,692 शिक्षकों की नियुक्ति की बात कही गई थी. बिहार राज्य विद्यालय अध्यापक नियमावली 2023 के तहत इन शिक्षकों की नियुक्ति बिहार लोक सेवा आयोग के माध्यम से किये जाने का ऐलान किया गया था. नयी नियुक्ति में कक्षा 11-12 तक के अध्यापन के लिए शिक्षा विभाग के नियंत्रणाधीन विद्यालय अध्यापक के 11,830 पद हैं जबकि कक्षा 9 और 10 तक के अध्यापन के लिए विद्यालय अध्यापक के 18,880 पदों पर नियुक्ति होगी. इसी प्रकार से कक्षा छह से आठ तक के लिए अध्यापन के लिए कुल 31,982 पद होंगे.