Daesh News

'बिहार के लोगों की नजर में सीएम नीतीश ने खोई विश्वसनीयता' : ममता बनर्जी

बिहार की सियासत में आया तूफान थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब बड़ी खबर सूत्रों के हवाले से सामने आ रही है कि, मुख्यमंत्री कल यानि कि 28 जनवरी को सुबह 10 बजे तक इस्तीफा दे सकते हैं और शाम तक वे शपथ ग्रहण भी कर सकते हैं. हालांकि, अब तक कुछ कंफर्म नहीं हुआ है. बयानबाजी थमने का नाम नहीं ले रही है और कयासों का बाजार भी पूरी तरह से गर्म है. इस बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इंडिया गठबंधन के घटक दलों के निशाने पर आ गए हैं. दरअसल, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के निशाने पर सीएम नीतीश कुमार आ गए हैं. इस सियासी हलचल के बीच ममता बनर्जी ने उन पर करारा तंज कस दिया है. 

ममता बनर्जी का सीएम नीतीश पर तंज 

ममता बनर्जी ने कहा कि, नीतीश कुमार के बाहर निकलने से विपक्षी गठबंधन पर ज्यादा असर नहीं पड़ेगा. 'मुझे लगता है कि नीतीश कुमार ने बिहार के लोगों की नजर में अपनी विश्‍वसनीयता खो दी है. वे अगर इस्तीफा देते हैं, तो तेजस्वी यादव के लिए बिहार में सुचारु रूप से काम करना आसान हो जाएगा.' इधर, बताते चलें कि, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इंडिया गठबंधन छोड़ने और भाजपा के साथ फिर से जुड़ने पर बिहार में पिछले दो दिनों से सियासत में हलचल मची हुई है. बिहार में सरकार रहेगी या फिर महागठबंधन टूट जाएगा, इस पर लगातार संशय बरकरार है. 

ममता ने की थी सबसे पहले गठबंधन से अलगाव की घोषणा 

इस बीच आपको यह भी बता दें कि, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को विभिन्न केंद्र-प्रायोजित योजनाओं के तहत पश्चिम बंगाल सरकार को केंद्रीय फंड जारी नहीं करने पर केंद्र सरकार को चेतावनी भी दी. आपको यह भी याद दिला दें कि, ममता बनर्जी ने ही सबसे पहले गठबंधन से अलग होने की घोषणा की थी. उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस पश्चिम बंगाल में आगामी लोकसभा चुनाव अकेले लड़ेगी. उन्होंने आगे कहा था कि, सभी क्षेत्रीय दल एकजुट रहेंगे. इसके साथ ही भविष्य के भी सभी निर्णय लोकसभा चुनाव के नतीजे घोषित होने के बाद ही लिए जाएंगे.