Daesh News

सीएम नीतीश कुमार सेट करेंगे नया रिकॉर्ड, 27 हजार नए शिक्षकों को देंगे नियुक्ति पत्र की बहार

बिहार के मुखिया नीतीश कुमार इन दिनों लगातार फुल फॉर्म में दिख रहे हैं. इस बीच 13 जनवरी को नीतीश कुमार एक नया रिकॉर्ड सेट करने वाले हैं. पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में नीतीश कुमार लगभग 27 हजार शिक्षकों को नियुक्ति पत्र देंगे. इसके लिए गांधी मैदान में तैयारियां पुरे तरह से मुकम्मल कर दी गई है. बता दें कि, जिन शिक्षकों को नियुक्ति पत्र दिया जाएगा वे बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) द्वारा दूसरे चरण में शिक्षक नियुक्ति परीक्षा उत्तीर्ण कर चुके हैं. जानकारी के मुताबिक, प्रदेश के 16 जिलों के करीब 26 हजार से अधिक शिक्षक गांधी मैदान में पहुंचेंगे और नियुक्ति पत्र प्राप्त करेंगे. इसके साथ ही आज सूबे के 24 जिलों में भी आज नियुक्ति पत्र वितरण समारोह का आयोजन किया जा रहा है. 

बदल गई है पटना की ट्रैफिक व्यवस्था

इधर, शिक्षक नियुक्ति वितरण समारोह को लेकर राजधानी पटना की ट्रैफिक व्यवस्था बदल दी गई है. साथ ही सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किए गए हैं. इससे पहले हम आपको जानकारी दे दें कि, दूसरे चरण में 1.22 लाख पदों पर प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक शिक्षकों के लिए नियुक्ति निकाली गई थी, इसमें 94 हजार की संख्या में अभ्यर्थी उत्तीर्ण हुए हैं. इसके अलावा प्रथम चरण के सप्लीमेंट्री में सफल हुए 2,727 अभ्यर्थी भी हैं, जिन्हें गांधी मैदान में नियुक्ति पत्र दिया जाएगा. 14 जिलों के सभी नियुक्त शिक्षकों को पटना बुलाया गया है. इनमें सबसे अधिक सारण जिले के करीब 3,500 शिक्षक हैं. सभी जिलों से शिक्षकों को लाने के लिए यात्री बसों की व्यवस्था की गई.

जल्द स्कूल भी शिक्षकों को होंगे आवंटित

इसके साथ ही आपको यह भी बता दें कि, सौ मजिस्ट्रेट तैनात किए गए हैं. दूसरे चरण में सफल 94 हजार अभ्यर्थियों में 73 हजार शिक्षकों की संबधित जिलों में काउंसिलिंग हो चुकी है. पहले चरण के पूरक रिजल्ट में सफल 2772 शिक्षकों को भी साथ में औपबंधिक नियुक्ति-पत्र दिये जाएंगे. चेकिंग के बाद ही प्रवेश दिया जाएगा. प्रमंडलीय आयुक्त कुमार रवि और डीएम डॉ. चंद्रशेख्रार सिंह ने सुरक्षा का जायजा लिया. गांधी मैदान में अस्थायी नियंत्रण कक्ष, अस्थायी थाना, मेडिकल टीम, वाटर एटीएम भी रहेगा. 70 दिनों के अंदर बीपीएससी द्वारा बड़ी संख्या में चयनित शिक्षकों को दूसरी बार नियुक्ति-पत्र दिया जा रहा है. पहले चरण के सफल शिक्षकों को दो नवंबर, 2023 को नियुक्ति-पत्र दिया गया था. इसके एक लाख दो हजार शिक्षक अपनी सेवा दे रहे हैं. वहीं, दूसरे चरण के चयनित शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है. जल्द ही इन शिक्षकों को भी स्कूल आवंटित कर दिया जाएगा.