Daesh News

JDU में टूट के दावे पर CM नीतीश का क्लियर कट जवाब, बोले - 'उनको तोड़ना है, तो कहिए न तोड़ दें'

बिहार में सियासी पारा इन दिनों चढ़ा हुआ है. लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर तमाम राजनीतिक पार्टियों की गतिविधियां तेज हो गई है. बयानबाजी का सिलसिला जारी है तो वहीं दूसरी तरफ कई तरह के दावे भी किये जा रहे हैं. इस बीच जेडीयू में टूट का दावा सुर्खियों में है. तमाम विपक्ष की पार्टियों के द्वारा जेडीयू में टूट को लेकर दावे किये जा रहे हैं. जिसको लेकर अब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुद पत्रकारों के सवाल पर क्लियर कट जवाब दे दिया है. सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि, उनको तोड़ना है, तो कहिए न तोड़ दें. बता दें कि, सीएम नीतीश कुमार, डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव और अन्य मंत्रियों के साथ गांधी जयंती के मौके पर उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे थे. इसी दौरान उन्होंने यह बयान दिया.

JDU में टूट का BJP ने किया दावा 

पत्रकारों ने सीएम नीतीश से सवाल किया कि, बीजेपी ये आरोप लगा रही है कि जदयू में टूट होने वाली है. पार्टी के मंत्री और विधायक आपस में भिड़ रहे हैं. पहले तो नीतीश कुमार ये सवाल समझ नहीं पाएं लेकिन, तेजस्वी यादव ने उन्हें समझाते हुए कहा कि, ये पूछ रहे है कि जेडीयू टूटने वाली है. जिस पर नीतीश ने पहले तेजस्वी से पूछा कितना टूट गई है. इसके बाद सीएम नीतीश ने कहा कि, अगर उनको तोड़ना है तो कहिए न तोड़ दें. दरअसल, बीजेपी के नेता नीतीश कुमार की पार्टी जदयू में टूट के दावे कर रहे हैं. 

सम्राट-उपेन्द्र-चिराग ने भी किया है दावा 

बता दें कि, जेडीयू में टूट को लेकर बिहार बीजेपी के अध्यक्ष सम्राट चौधरी ने भी कहा कि, जदयू दो धड़ों में बंट गई है. पार्टी अध्यक्ष ललन सिंह और मंत्री अशोक चौधरी के बीच दूरी काफी बढ़ गई है. ऐसे में अब नीतीश की पार्टी का टूटना तय है और इसे अब कोई नहीं संभाल पाएगा. एनडीए की सहयोगी पार्टी लोजपा (रामविलास) के अध्यक्ष चिराग पासवान ने भी दावा किया कि, जदयू के टुकड़े-टुकड़े हो जायेंगे और उसके कई नेता उनके संपर्क में है. वहीं, उपेन्द्र कुशवाहा ने भी जेडीयू का अस्तित्व खत्म होने की बात कही.