Daesh News

NCERT की किताब लेकर विधानसभा पहुंचे CM नीतीश के मंत्री, मीडिया के सामने दिखाने लगे साक्ष्य

बिहार विधानमंडल का हंगामेदार शीतकालीन सत्र जारी है. प्रजनन दर को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जो बयान दिया था, उसे लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. आज सत्र के चौथे दिन भी जमकर हंगामा सदन के बाहर और अंदर देखने के लिए मिला. एक तरफ जहां बीजेपी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ-साथ उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव से भी इस्तीफे की मांग पर अड़ गई है तो वहीं दूसरी ओर जेडीयू और आरजेडी की तरफ से मुख्यमंत्री का बचाव किया जा रहा है. इसके साथ ही उनका समर्थन किया जा रहा है.

इसी क्रम में आज विधानसभा परिसर में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कुछ मंत्री किताब लेकर पहुंच गए और सीएम नीतीश का समर्थन करते हुए साक्ष्य दिखाने लगे. दरअसल, मंत्री अशोक चौधरी, शीला मंडल और लेसी सिंह समेत अन्य नेता भी मौजूद रहे. इस दौरान अशोक चौधरी एनसीईआरटी की 12वीं कक्षा के जीव विज्ञान की किताब लेकर पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने दिखाया कि, बायोलॉजी के किताब में हर वो एक शब्द लिखा गया है जो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सदन में कही. आगे अशोक चौधरी ने कहा कि, उसके लिए नीतीश कुमार ने माफी मांग लिया लेकिन फिर भी हंगामा किया जा रहा है. क्या इसे ये लोग एनसीईआरटी के सिलेबस से हटायेंगे ?   

बता दें कि, आज भी सदन के अंदर जमकर बवाल हुआ. सदन की कार्यवाही के दौरान खूब हंगामा हुआ और इसके साथ ही कुर्सियां भी उठाई गई. विधानसभा स्पीकर ने इस दौरान उन सभी विधायकों का नाम नोट करने के लिए कहा, जो हंगामा कर रहे थे. विधानसभा स्पीकर ने कहा कि, हंगामा करने वाले विधायकों का नाम नोट कीजिये, उन सभी पर नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी. इसके बाद ही विधानसभा स्पीकर ने सदन की कार्यवाही को 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया. हालांकि, मुख्यमंत्री को लेकर विवाद लगातार जारी है.