Daesh News

बिहार में सियासी हलचल के बीच दिल्ली रवाना होंगे सीएम नीतीश, 29 दिसंबर को आ सकता है बड़ा फैसला

जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के इस्तीफे की खबर को लेकर अब तक सियासी हलचल तेज है. इस बीच बिहार के मुखिया नीतीश कुमार आज ही दिल्ली पहुंचेंगे. 29 दिसंबर को जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी और राष्ट्रीय परिषद की बैठक होने वाली है. इस बैठक को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. ऐसा कहा जा रहा कि, ललन सिंह को लेकर जो कुछ भी दावे किए जा रहे हैं उसे लेकर सब कुछ क्लियर हो जाएगा. इसके साथ ही यह भी कयास लगाए जा रहे कि, सीएम नीतीश कुमार कोई बड़ा निर्णय ले सकते हैं. हालांकि, इन सभी कयासों से पर्दा अब तो शुक्रवार को ही उठेगा.    

सीटों को लेकर दावेदारी शुरू 

इधर, आपको बता दें कि, विपक्षी दलों के गठबंधन 'इंडिया' में शामिल दलों ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर सीट बंटवारे को लेकर अपनी-अपनी दावेदारी शुरू कर दी है. बताया जा रहा है कि मंगलवार को कांग्रेस की दिल्ली में हुई बैठक में 8 से 9 सीट पर दावेदारी ठोंक दी गई है. जबकि, राजद और जदयू बड़े भाई बनने को लेकर व्यग्र हैं. कहा जा रहा है कि जदयू जहां पिछले लोकसभा चुनाव परिणाम के आधार पर सीट बंटवारे की बात कर रही है, वहीं राजद पिछले विधानसभा चुनाव परिणाम को आधार बनाने की शर्त रख रही है.

जल्द आ सकता है फैसला

इसके साथ ही सूत्रों की माने तो, जो चर्चा चल रही है उसके मुताबिक महागठबंधन में आरजेडी और जेडीयू 15 से 17 से और शेष सीटों पर अन्य दल अपने उम्मीदवार उतारेंगे. वामदलों की बात करें तो भाकपा, माकपा और भाकपा (माले) सभी 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर उत्साहित हैं और तैयारी कर रहे हैं. वामपंथी दल पिछले विधानसभा चुनाव को आधार बनाकर सीट बंटवारे को लेकर दावेदारी पेश कर रहे हैं. पिछले विधानसभा चुनाव में वामपंथी दलों ने 16 सीट पर जीत दर्ज की थी. हालांकि, कुल मिलाकर देखा जाए तो सीट बंटवारे को लेकर कई तरह की चर्चाएं हो रही है, जिस पर फैसला जल्द आ सकता है.