Daesh News

ईडी से होगा सीएम सोरेन का मुकाबला, दिल्ली से अधिकारी आयेंगे झारखंड

आज का दिन झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के लिए बेहद ही महत्वपूर्ण माना जा रहा है. आज आखिरकार वह दिन आ ही गया जब मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का सामना ईडी से होगा. इसे लेकर पहले से ही गहमागहमी का माहौल बना हुआ है. आज ईडी की टीम के कुछ अधिकारी दोपहर करीब 12 बजे मुख्यमंत्री आवास पहुंचेंगे, जहां सीएम हेमंत सोरेन से पूछताछ की जाएगी. बता दें कि, अधिकारियों की टीम मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से उनके और पारिवारिक सदस्यों द्वारा अर्जित संपत्ति के आर्थिक स्रोतों से जुड़े सवाल पूछ सकती है. इसके साथ ही संबंधित बिंदुओं पर मुख्यमंत्री का बयान भी दर्ज किया जायेगा. 

सुरक्षा व्यवस्था रहेगी टाइट

इस बीच आपको बता दें कि, ईडी के आठवें समन के बाद पूछताछ और बयान दर्ज कराने की जगह और समय मुख्यमंत्री ने ही तय किया है. इधर, इस पूरे घटनाक्रम को देखते हुए जिला प्रशासन ने ईडी कार्यालय सहित शहर के विभिन्न हिस्सों में सुरक्षा व्यवस्था सख्त कर दी है. ईडी ऑफिस से मुख्यमंत्री आवास जाने के दौरान ईडी के अधिकारियों की सुरक्षा में कोई समस्या नहीं हो, इसे लेकर रांची पुलिस तैयार है. ईडी ऑफिस से लेकर मुख्यमंत्री आवास के बाहर सुरक्षा में कुल 900 पुलिस अफसर और जवान तैनात किये गये हैं. साथ ही ईडी और मुख्यमंत्री आवास के बाहर बैरिकेडिंग की गई है. ईडी के अधिकारी जब इडी ऑफिस से मुख्यमंत्री आवास के लिए निकलेंगे, तब हर चौक-चौराहे पर इडी के अफसरों की सुरक्षा के लिए जवान और पुलिस अफसर तैनात रहेंगे.

इस मामले में ईडी करेगी पूछताछ

एक बार फिर आपको याद दिला दें कि, मुख्यमंत्री ने अपना बयान दर्ज कराने के लिए ईडी को अपने सरकारी आवास पर 20 जनवरी को दोपहर 12 बजे के बाद बुलाया है. मुख्यमंत्री द्वारा जगह और समय निर्धारित करने के बाद ईडी की टीम उनका बयान दर्ज करने जा रही है. ईडी ने बड़गाई के राजस्व कर्मचारी के घर से जब्त सरकारी दस्तावेज और उसमें की गयी छेड़छाड़ के मामले में दर्ज प्राथमिकी को ईसीआईआर के रूप में दर्ज किया है. इसी मामले में सीएम हेमंत सोरेन से पूछताछ होनी है. इधर, सुरक्षा के लिए पुलिस द्वारा स्कॉट की सुविधा भी दी जायेगी. सुरक्षा व्यवस्था की मॉनिटरिंग सिटी कंट्रोल सेभी सीसीटीवी कैमरे से की जायेगी. यदि जरुरत पड़ी तो पुलिस निगरानी के लिए ड्रोन कैमरे का भी इस्तेमाल कर सकती है. साथ ही विरोध प्रदर्शन करनेवालों से निपटने के लिए वाटर कैनन, टीयर गैस सहित अन्य आवश्यक उपकरण भी तैनात जवानों को उपलब्ध कराये गये हैं.