Daesh News

विधानसभा गेट के बाहर बेकाबू हुई आंगनबाड़ी सेविकाओं की भीड़, पुलिस ने चटकाई लाठियां, वाटर कैनन का प्रयोग

बिहार विधानमंडल के शीतकालीन सत्र का आज दूसरा दिन है. 11 बजे से सत्र की शुरुआत होने वाली है. लेकिन, सत्र शुरू होने से पहले ही विधानसभा गेट के बाहर आंगनबाड़ी सेविकाओं का हुजूम उमड़ पड़ा है. सत्र शुरू होने से पहले ही अपनी मांगों को लेकर आंगनबाड़ी सेविकाएं विधानसभा गेट के बाहर पहुंच गई. इस दौरान उन सभी ने जमकर बवाल काटा. महिलाओं को इस दौरान रोकना मुश्किल हो गया जिसके बाद उन पर पुलिस की ओर से लाठियां चटकाई गई. 

बता दें कि, आंगनबाड़ी सेविकाओं की मांग थी कि, उन्हें नियमित किया जाए, उनके मानदेय को बढ़ाया जाए और इसके साथ ही अन्य मांगों को लेकर वे सभी पहुंची थी. लेकिन, उनका प्रदर्शन देखते ही देखते काफी ज्यादा उग्र हो गया. वे किसी की भी नहीं सुनने वाली थी. जिसके बाद पुलिस ने उन पर लाठियां चटकाई और वाटर कैनन से पानी का बौछार भी किया. इस दौरान एक महिला बेहोश हो गई. तो वहीं, एक महिला को लेकर मौत की बात कह रही थी. 

एकाएक भीड़ बेकाबू हो गई और उन्हें जब रोक पाना मुश्किल हो गया तब जाकर पुलिस ने उन पर लाठियां चटकाई. बता दें कि, आज शीतकालीन सत्र का दूसरा दिन है और आज राज्य सरकार जातीय-आर्थिक सर्वे की विस्तृत रिपोर्ट सदन में पेश करेगी. विधानसभा और विधान परिषद में भोजनावकाश के बाद यह पेश की जाएगी. बता दें कि, सोमवार को विधानसभा और विधान परिषद की कार्य मंत्रणा समिति की अलग-अलग बैठक हुई. जिसमें रिपोर्ट पेश करने का निर्णय लिया गया. लेकिन, इससे पहले ही आंगनबाड़ी सेविकाओं ने बड़ा बवाल खड़ा कर दिया.