Daesh News

भोजपुरी स्टार पवन सिंह के कार्यक्रम में जुट रही है भीड़,बड़ा सवाल वोट भी मिलेगा..

AURANGBAD- काराकाट से लोकसभा का चुनाव लड़ रहे भोजपुरी फिल्मों के स्टार सह गायक पवन सिंह के कार्यक्रमों में युवाओं की खासी भीड़ जमा हो रही है, और उनकी एक झलक पाने के लिए युवा घंटे तक धूप में खड़े हो रहे हैं, वहीं पवन सिंह से मुलाकात के बाद इसमें गजब का जोश दिख रहा है. पवन सिंह के कार्यक्रम में युवाओं की जुट रही भीड़ से काराकाट लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे एनडीए और महागठबंधन के प्रत्याशी दवाब में नजर आ रहे हैं.

औरंगाबाद के गोह प्रखंड में बाबा दुधेश्वर नाथ की नगरी देवकुंड पहुंचे भोजपुरी के सुपर स्टार गायक पवन सिंह का हजारों की सख्या में उपस्थित समर्थकों ने जोरदार अभिनंदन किया। वही उनकी एक झलक पाने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ी रही। पवन सिंह के देवकुंड पहुंचते ही लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। पुलिस की कड़ी मशक्कत करने के बावजूद उन्हें मंदिर तक पहुंचने में काफी समय लगा। बाबा दुधेश्वरनाथ के मंदिर पहुंचने पर आचार्य वेंकटेश दिवेदी ने वैदिक मंत्रोचार के साथ विधिवत पूजा अर्चना कराई। इस मौके पर पवन सिंह ने मौजूद लोगों का अभिवादन किया। इस दौरान उन्होंने अपने गायन से समर्थकों का उत्साह बढ़ाया. हालाँकि मौके पर पत्रकारों ने पवन सिंह से कई सवाल किए लेकिन वें कुछ भी बोलने से परहेज करते नजर आए। 

बाबा दुधेश्वरनाथ की पूजा अर्चना के बाद इस इलाके में चुनाव प्रचार की शुरुआत की.पवन सिंह मंदिर में पूजा-अर्चना कर मंदिर के दिव्य स्वरूप में विराजमान भगवान ब्रह्मा, विष्णु, महेश के प्रतिमा को प्रणाम किया। मंदिर की भव्यता और सुंदरता को देखकर भाव विभोर हुए। इस दौरान स्थानीय लोगों में सेल्फी लेने की होड़ लगी रही। सुरक्षा को लेकर पुलिस जवानों को लगाया गया था, वे भी सेल्फी लेने में मशगूल नजर आए। इस दौरान पूरा माहौल शोर-शराबा का बना रहा। पवन सिंह के आने की सूचना पर काफी संख्या में उनके फैन्स भी पहुंचे हुए थे। बाबा की आराधना के बाद पवन सिंह ने अपने प्रचार अभियान में हथियारा, बनतारा, बेला, अरंडा, उपहरा, तेयाप सहित एक दर्जन से अधिक गांव में गए और मतदाताओं से आर्शीवाद मांगा। 

गौरतलब है कि मशहूर भोजपुरी गायक और अभिनेता पवन सिंह ने काराकाट लोकसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। इसके पहले भारतीय जनता पार्टी ने उन्हे पश्चिम बंगाल के आसनसोल से टिकट दिया था, लेकिन पवन सिंह वहां से चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया। इसके बाद वें एनडीए प्रत्याशी और पूर्व मंत्री उपेन्द्र कुशवाहा और इंडी-महागठबंधन समर्थित भाकपा(माले) प्रत्याशी राजाराम सिंह के खिलाफ निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में अपनी चुनावी किस्मत आजमां रहे हैं।

औरंगाबाद से गणेश की रिपोर्ट