Daesh News

22 जनवरी को देश में मनेगी दिवाली, अब तो नेपाल में भी हो रही तैयारी

रामलला के प्राण प्रतिष्ठा का समय जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे राम भक्त 22 जनवरी को दीपावली मनाने की तैयारी में जुट गए हैं. अब तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान पर भारत ही नहीं नेपाल में भी प्राण प्रतिष्ठा के दिन 22 जनवरी को दीपोत्सव मानने में लोग जुट गए हैं. दरअसल, नेपाल बॉर्डर के रक्सौल अनुमंडल के हरनाही पंचायत में लगभग 150 कुम्हार का घर है. ये लोग कड़ाके की ठंड में भी राम भक्तों के लिए सपरिवार दिन और रात दीप बना रहे हैं. कुम्हारों का कहना है कि, दीपावली के बाद इनका व्यापार ठप हो जाता है. 

नेपाल में भी रामलला की धूम

लेकिन, इस बार अयोध्या में श्री राम के प्राण प्रतिष्ठा को लेकर दीपोत्सव मनाए जाने से उन्हें काम मिल गया. हालांकि, उनका यह भी कहना है कि, ठंड होने से उनका दीप सुख नहीं पा रहा है. रक्सौल ही नहीं नेपाल से भी दीप का भारी मात्रा में ऑर्डर आया है. रक्सौल निवासी विश्व हिंदू परिषद से जुड़े पार्थ ने बताया कि, विश्व हिंदू परिषद का उद्देश्य है कि घर-घर में दीप प्रज्ज्वलित हो. हिंदू गरीब परिवार सहित मंदिरों में निशुल्क दीप दिया जाए, जिससे वे प्राण प्रतिष्ठा के दिन अपने घरों-मंदिरों में दीप जला सके. 

पूरे देश में प्राण-प्रतिष्ठा को लेकर हर्ष

वहीं, मोतिहारी के बाजारों में भी विभिन्न तरह के झंडो के साथ राम से सबंधित स्टीकर्स की बिक्री भी बढ़ गई है. ठंड के बावजूद बाजार में मांग ज्यादा हो रही है. बता दें कि, रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को लेकर पूरे देश में हर्ष का माहौल है. पूरी अयोध्या नगरी को दुल्हन की तरह सजाया जा रहा है. हर तरह से तैयारियों को बस अंतिम रुप दिया जा रहा है. इसके साथ ही प्रशासन की ओर से भी तैयारियां कर ली गई है.