Daesh News

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जदयू के MLC गिरफ्तार; जानें किन सबूतों के आधार पर किसने की कार्रवाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ विपक्षी एकता को एकजुट करने वाले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाईटेड के सेठ जी, यानी एमएलसी राधाचरण साह को प्रवर्तन निदेशालय ने इस बार जांच और पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया.

जदयू के एमएलसी राधा चरण साह को लम्बी पूछताछ के बाद ईडी ने गिरफ्तार कर लिया है. राधा चरण सेठ से संबंधित पटना आरा सहित एक दर्जन जगहों पर आज सुबह से ईडी की जांच चल रही थी. राधा चरण सेठ पर बालू के अवैध कारोबार सहित अवैध तरीके से अकूत सम्पति बनाने का मामला है. पिछले दिनों ईडी ने राधाचरण सेठ और उनके बेटे कन्हैया को नोटिस देकर पटना ऑफिस में पूछताछ भी किया था. गिरफ़्तारी के बाद जदयू एम एल सी ने अपनी तबियत ख़राब होने की बात कहीं जिसके बाद उनका मेडिकल चेकअप कराया जा रहा है.

बताया जा रहा है की ईडी की टीम बुधवार को जदयू एमएलसी के भोजपुर जिले के नवादा थाना क्षेत्र के अनाईठ मठिया स्थित फार्म हाउस पर छापेमारी करने पहुंची. छापेमारी करने गई टीम के साथ अर्धसैनिक बलों के जवान भी तैनात थे. फार्म हाउस के अंदर से बाहर और बाहर से अंदर जाने की किसी को भी इजाजत नहीं दी गयी थी. इसके पहले भी एमएलसी और उनके बेटे से बालू खनन मामले को लेकर ईडी पूछताछ कर चुकी है. 

बता दें की राधाचरण सेठ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बेहद करीबी माने जाते हैं. बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद ईडी ने सबसे पहले राधाचरण सेठ पर ही शिकंजा कसना शुरू किया था. केन्द्रीय एजेंसी की इस कार्रवाई को लेकर राजद और जदयू उसके दुरूपयोग का आरोप लगाते रहे हैं.