Daesh News

अब Gpay पर कोई नहीं कर पाएगा फ्रॉड, आ गया ये जरूरी फीचर, जान लें सुरक्षित रहने का तरीका

अब सर्विस या सामानों के भुगतान के मामले में जमाना बदलता जा रहा है. कैश की जगह डिजिटल पेमेंट में काफी तेजी से बढ़ोतरी हो रही है. एक के बाद एक आये प्लेटफॉर्म लोगों को अपनी तरफ आकर्षित कर रहे हैं. पेटीएम, गूगलपे और फोन पे जैसे प्लेटफॉर्म लोगों के लिए सुविधाजनक और इस्तेमाल करने में बेहद आसान हैं. मगर जितनी रफ्तार से डिजिटल पेमेंट का चलन बढ़ रहा है उससे इन डिजिटल प्लेटफॉर्म पर धोखाधड़ी की संभावना भी बढ़ रही है.


भारत में जैसे-जैसे डिजिटल पेमेंट की संख्या में इजाफा दर्ज किया जा रहा है वैसे-वैसे साइबर क्राइम की घटनाओं में भी लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है. ऐसे में बहुत सारे लोग अनजाने में साइबर फ्रॉड के शिकार होते जा रहे हैं.  PhonePe और Google Pay भारत के बड़ी पेमेंट ऐप प्लेटफॉर्म हैं, लेकिन डिजिटल पेमेंट में फ्रॉड की संख्या में लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है, जिससे निपटने के लिए गूगल पे की तरफ से एक नया फीचर पेश किया गया है. यह एक अलर्ट फीचर हैं, जो किसी भी गलत अकाउंट में पैसे जाने पर आपको अलर्ट करेगा.

कहने का मतलब है कि मान लीजिए, आप किसी संदिग्ध अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर रहे हैं, तो आपके गूगल पे की ओर से एक अलर्ट मैसेज मिलेगा कि आप जिस अकाउंट में पैसे भेज रहे हैं, वो संदिग्ध है. ऐसे में आप गलत अकाउंट में पैसे भेजने से बच सकते हैं.

बता दें कि गूगल पे एक थर्ड पार्टी ऐप प्लेटफॉर्म है. ऐसे में अगर आपके अकाउंट से एक बार गलत अकाउंट में पैसे ट्रांसफर हो जाते हैं, तो उसके लिए ऐप जिम्मेदार नहीं होता है.

जल्द आएगा साउंड बॉक्स

गूगल पे की तरफ से जल्द साउंड बॉक्स दिया जाएगा. यह साउंड बॉक्स छोटे कारोबारियों के लिए है, जो पेमेंट के दौरान वॉइस जनरेट करेगा कि आपने कितने रुपये का पेमेंट किया है. रिपोर्ट की मानें, तो गूगल पे साउंड बॉक्स को अगले साल 2024 तक पेश किया जा सकता है. गूगल से पहले पेटीएम की ओर से साउंड बॉक्स दिया जा चुका है.

सुरक्षित रहने के लिए बरतें सावधानी

बहुत बार ठगी करने वाले आपको पेटीएम या गूगल पे के माध्यम से पैसे की रिक्वेस्ट भेजते हैं. मगर ये पैसों की रिकव्सेट आपको पैसे देने के लिए नहीं बल्कि आपके खाते से पैसे उड़ाने का जरिया होता है. ध्यान रहे कि यूपीआई आधारित ये मोबाइल वॉलेट धोखाधड़ी के लिए सबसे आसान तरीकों में से एक है. दिक्कत ये है कि लोग इस तरह के मैसेज या रिक्वेस्ट की लालच में आ जाते हैं और अपनी मेहनत की गाढ़ी कमाई से हाथ धो बैठते हैं. जालसाज किसी के मोबाइल को खुद हैंडल कर पाने की कोशिश करते हैं ताकि वे उससे फ्रॉड कर बैंक में पैसे ट्रांसफर कर सकें. ध्यान रहे कि ऐसी किसी भी रिक्वेस्ट को फौरन नजरअंदाज कर दें.

ऑनलाइन पेमेंट करते वक्त रखें ध्यान-

ऑनलाइन पेमेंट किसी भी लिंक से ना करें.

ऑनलाइन पेमेंट के लिए हमेशा विश्वसनीय सोर्स का इस्तेमाल करना चाहिए.

पेमेंट करने से पहले एक बार क्रॉस चेक जरूर करें.

किसी भी अनजान को पेमेंट करने से पहले ध्यान देना चाहिए.

ध्यान रखने वाली जरूरी बातें-

किसी भी ऐसी लालच वाली रिक्वेस्ट से बचें. 

फ्रॉड कॉल या मैसेज को पहचानें और उससे सावधान रहें.

अपनी कोई भी जरूरी और गोपनीय जानकारी किसी के साथ भी साझा न करें.

अगर आपसे कोई बैंक अधिकारी बन कर भी बात करे तो कोई पिन न दें.