Daesh News

अचानक जिम छोड़ने के बाद क्‍यों बढ़ जाता है फिर से वजन, जानें बॉडी कैसे करती है रिएक्‍ट

जिम में बॉडी बनाने में बहुत मेहनत लगती है. मांसपेशियों को मजबूत करने में महीनों, सालों लग जाते हैं. पर वापस चर्बी आने में, वज़न बढ़ने में बहुत कम समय. तो ऐसे में आइए जानते हैं कि फिटनेस एक्सपर्ट्स क्या कहते हैं. एकदम से एक्सरसाइज या जिम छोड़ने से होने वाले नुकसानों के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं. साथ ही ये भी बताएंगे कि अगर जिम वापस जाना मुमकिन नहीं है तो कैसे बॉडी मेनटेन करें.

सबसे पहले जान लेते हैं एकदम से जिम छोड़ देने पर शरीर में क्या बदलाव आते हैं?

अगर आप लंबे समय से वर्कआउट कर रहे थे और किसी कारण से अचानक बंद करना पड़ रहा है तो क्या इसका शरीर पर प्रभाव पड़ेगा? जवाब है हां, शरीर में बदलाव आना तय है. आपने अपने फ़िटनेस लेवल का सफ़र ज़ीरो से हीरो तक एक लंबे समय में तय किया है. जब आप एक्सरसाइज करना बंद कर देते हैं तो आपका फ़िटनेस लेवल वापस जीरो पर आएगा ही. इसके अलावा जो लक्षण देखने को मिलेंगे वो हैं मोटापा वापस आना. एनर्जी लेवल कम होना. नींद की साइकिल में बदलाव आना. मानसिक स्वास्थ पर भी असर पड़ता है.

किस तरह का नुकसान झेलना पड़ता है शरीर को?

उदाहरण के तौर पर जब हम वर्कआउट कर रहे थे तब दिल और लंग्स ज़्यादा कैपेसिटी में काम कर रहे थे, उसमें गिरावट देखने को मिल सकती है. मांसपेशियों की ताकत में भी गिरावट देखने को मिल सकती है. शरीर के बैलेंस में भी गिरावट आना संभव है. शरीर का लीन बॉडी मास यानी बोन मास और मसल मास इनमें भी गिरावट आती है. उस गिरावट की वजह से शरीर का फैट परसेंटेज बढ़ जाएगा. जिसकी वजह से मोटापा आना तय है. जब हम एक्सरसाइज कर रहे होते हैं तब हमारा मेटाबॉलिज्म बहुत दुरुस्त होता है.

एक्सरसाइज बंद करने पर मेटाबॉलिज्म में परिवर्तन आता है. ये मेटाबॉलिज्म ही है जो ब्लड शुगर लेवल, ग्लूकोस लेवल या ब्लड प्रेशर को कंट्रोल में रखता है. इसलिए मेटाबॉलिज्म में अगर कोई बदलाव आएगा तो उसका असर इन पर भी पड़ेगा. मानसिक स्वास्थ में भी बदलाव आता है. ख़ुशी और एनर्जी लेवल में गिरावट आ सकती है. जब हम एक्सरसाइज कर रहे होते हैं तो इम्यूनिटी ठीक रहती है. लेकिन जब एक्सरसाइज बंद कर देते हैं तो उसका असर इम्यूनिटी पर भी पड़ता है. जो कि नीचे आने लगती है और उसकी वजह से बार-बार बीमार पड़ते हैं.

जिम छोड़ने से होने वाले नुकसान से बचने के लिए क्या करें?

अगर हमें ज़िंदगी भर हेल्दी और फ़िट रहना है तो ज़िंदगीभर ही इसके लिए मेहनत करनी पड़ेगी. लेकिन फिर भी अगर किसी वजह से हमें जिम या व्यायाम बंद करना पड़ रहा है तो कुछ बातों पर गौर ज़रूर करें. एक्सरसाइज को अचानक से पूरी तरह बंद न करें. धीरे-धीरे कम करें. खाने-पीने की आदतों को दुरुस्त रखना होगा. हेल्दी खाते रहें. मानसिक स्वास्थ पर गौर करें. सोशली एक्टिव रहें. मेडिटेशन करें. किसी भी तरह की फिजिकल एक्टिविटी करते रहें. WHO के मुताबिक एक इंसान को हफ़्ते में 150 मिनट फिजिकल एक्टिविटी करनी चाहिए. जैसे चलना, जॉगिंग, योग वगैरा. 

------------------------------------------------