Daesh News

IND W vs SL W Live: क्रिकेट में भारत की बेटियों ने जीता स्वर्ण, फाइनल में श्रीलंका को 19 रनों से हराया

19वें एशियाई खेलों में आज भारतीय महिला क्रिकेट टीम का फाइनल में सामना श्रीलंका से था. इस मैच को जीतकर टीम इंडिया ने पहली बार स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया है. भारत ने पहले सेमीफाइनल में बांग्लादेश को आठ विकेट से हराया था, जबकि श्रीलंका ने दूसरे सेमीफाइनल में गत विजेता पाकिस्तान को छह विकेट से हराकर फाइनल का टिकट कटाया था. कांस्य पदक के मैच में बांग्लादेश की टीम ने पाकिस्तान को हरा दिया. स्वर्ण पदक के मुकाबले में भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया. 117 रन के लक्ष्य के जवाब में श्रीलंकाई टीम आठ विकेट पर 97 रन ही बना सकी.

महिला क्रिकेट टीम ने एशियाई खेलों में भारत को दूसरा स्वर्ण दिलाया

हांगझोऊ में चल रहे 19वें एशियाई खेलों में भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने स्वर्ण पदक जीत लिया है. फाइनल यानी स्वर्ण पदक के मुकाबले में भारत ने श्रीलंका के सामने 117 रन का लक्ष्य रखा था. भारत ने 20 ओवर में सात विकेट गंवाकर 116 रन बनाए. स्मृति मंधाना ने सबसे ज्यादा 46 रन की पारी खेली. वहीं, जेमिमा रोड्रिग्स ने 42 रन बनाए. जवाब में श्रीलंकाई टीम 20 ओवर में आठ विकेट गंवाकर 97 रन ही बना सकी. इस तरह टीम इंडिया ने फाइनल मुकाबला 19 रन से जीत लिया.

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारतीय टीम की शुरुआत खराब रही थी. शेफाली वर्मा 15 गेंदों में नौ रन बनाकर आउट हुईं. इसके बाद स्मृति ने जेमिमा के साथ मिलकर दूसरे विकेट के लिए 73 रन की साझेदारी निभाई. इस साझेदारी को रानावीरा ने तोड़ा. उन्होंने मंधाना को आउट किया. मंधाना ने 45 गेंदों में चार चौके और एक छक्के की मदद से 46 रन की पारी खेली. वहीं, ऋचा घोष नौ रन, दो मैचों के प्रतिबंध के बाद टीम में वापसी कर रहीं कप्तान हरमनप्रीत कौर दो रन, पूजा वस्त्राकर दो रन बनाकर आउट हुईं. जेमिमा रोड्रिग्स ने 40 गेदों में पांच चौके की मदद से 42 रन की पारी खेली. दीप्ति और अमनजोत एक-एक रन बनाकर नाबाद रहीं. श्रीलंका की ओर से उदेशिका प्रबोधनी, सुगंदिका कुमारी और इनोका रानावीरा ने दो-दो विकेट लिए.


जवाब में श्रीलंका की टीम की शुरुआत भी खराब रही थी. तितास साधु ने कमाल का प्रदर्शन करते हुए चमारी अटापट्टू (12), अनुष्का संजीवनी (1) और विश्मी गुणारत्ने (0) को पवेलियन भेजा. इसके बाद हसिनी परेरा और निलाक्षी डि सिल्वा ने चौथे विकेट के लिए 36 रन की साझेदारी निभाई. पूजा ने निलाक्षी (23) को आउट कर साझेदारी को तोड़ा. राजेश्वरी ने हसिनी (25) को आउट किया. दीप्ति ने ओशादी राणासिंघे (19), देविका वैद्य ने कविशा दिलहारी (5) और राजेश्वरी ने सुगंदिका कुमारी को आउट कर श्रीलंका की उम्मीदों को समाप्त कर दिया. भारत की ओर से तितास ने सबसे ज्यादा तीन विकेट लिए. वहीं, राजेश्वरी को दो विकेट मिले. दीप्ति, पूजा और देविका को एक-एक विकेट मिला.