Daesh News

19 दिसंबर को इंडिया गठबंधन की बैठक महत्वपू्र्ण, सीट शेयरिंग से अधिक इस मुद्दे पर चर्चा की संभावना

19 दिसंबर को इंडिया गठबंधन की चौथी बैठक होने वाली है, जो कुछ मायनों में बेहद ही महत्वपूर्ण मानी जा रही है. 5 राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के बाद ही इंडिया गठबंधन की बैठक होने वाली थी. लेकिन कुछ कारणों की वजह से बैठक को टाल दिया गया. जिसके बाद 19 दिसंबर की तारीख तय की गई थी. वहीं, इस बैठक को लेकर बिहार के मुखिया नीतीश कुमार खूब सुर्खियों में हैं. एक के बाद एक नीतीश कुमार को लेकर कई तरह की चर्चाएं देखने के लिए मिल रही है. इस बैठक में सीट शेयरिंग से अधिक अन्य किसी मुद्दे को लेकर चर्चा होने की संभावना जताई जा रही है.     

गठबंधन के नेतृत्व का मुद्दा 

सूत्रों की माने तो, सीएम नीतीश कुमार की हड़बड़ी को देखते हुए इस बात की प्रबल संभावना है कि, इंडिया अलायंस की बैठक में सीट बंटवारे और गठबंधन के नेतृत्व का मुद्दा जोरदार ढंग से उठेगा. विधानसभा चुनावों में कांग्रेस की करारी हार के बाद गैर कांग्रेसी विपक्षी नेताओं को अब गठबंधन के नेतृत्व परिवर्तन की जरूरत महसूस हो रही है. सभी यह मान रहे कि राहुल गांधी या कांग्रेस के बूते कोई करिश्मा संभव नहीं. इसलिए विपक्षी गठबंधन की कमान अब किसी और को सौंपनी चाहिए. नीतीश कुमार की रैलियों की योजना को भी इसी से जोड़ कर देखा जा रहा है. 

बैठक में उठ सकती है मांग

बता दें कि, नीतीश कुमार की पार्टी और आरजेडी के नेता लगातार नीतीश कुमार को पीएम फेस बनाने की मांग करते रहे हैं. इसे लेकर आरजेडी की अधिक रुचि इसलिए है कि नीतीश के जाते ही बिहार की कमान उसके नेता तेजस्वी यादव के हाथ आ जाएगी. ममता पहले से ही कांग्रेस के नेतृत्व को नापसंद करती हैं. अरविंद केजरीवाल और अखिलेश यादव से ममता की अच्छी पटती रही है. ममता की टीएमसी भी ममता को विपक्षी गठबंधन का नेतृत्व सौंपने की बात कहती रही है. इसलिए गठबंधन के नेतृत्व परिवर्तन की बात खुल कर बैठक में उठ सकती है.

सीएम नीतीश आज ही जायेंगे दिल्ली

इधर, आपको हम यह भी बता दें कि, विपक्षी गठबंधन इंडिया की 19 दिसंबर को बैठक होने जा रही है. कांग्रेस की ओर से गठबंधन में शामिल सभी दलों को न्योता भेजा जा चुका है. जेडीयू की ओर से जब नीतीश कुमार के देश के दूसरे राज्यों में रैली-सभाएं करने की बात कही जाती है तो इसके पीछे का मकसद कोई नहीं बताता. हालांकि, उनकी रैलियों और यात्राओं को कई लेकर तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. वहीं, इन तमाम गतिविधियों के बीच यह देखना दिलचस्प होगा कि आखिरकार बैठक में क्या होता है. बता दें कि, सीएम नीतीश बैठक के लिए आज ही रवाना होंगे.