Daesh News

जेल में बंद MLC को सरकारी समारोह में बनाया गया अतिथि, ED ने 10 दिन पहले किया था गिरफ़्तार

बिहार के आरा में एक अजीबो- गरीब मामला सामने आया है. यहां जेल में बंद जेडीयू विधान पार्षद राधाचरण साह को भोजपुर में आयोजित सरकारी कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि बनाया गया है. इससे जुड़ा आमंत्रण पत्र भी सामने आ गया है. जिसके बाद सवाल उठ रहे हैं कि आखिर कैसे इस तरह की गलती हुई है, क्या सच में वह कार्यक्रम में शामिल होने आएंगे?

दरअसल, भोजपुर में 24 सितंबर को जिला प्रशासन द्वारा दिव्यांगों के बीच बड़े स्तर पर बैट्री संचालित ट्राई साइकिल का वितरण होना है. इसी कार्यक्रम के लिए  राधाचरण साह को विशिष्ट अतिथि बनाया गया है. जबकि वह जेल में बंद हैं. पिछले दिनों उनको ईडी ने गिरफ्तार किया था. उसके बाद जिला प्रसाशन द्वारा बनाए गए आमंत्रण पत्र में जेडीयू एमलसी का नाम लिखा गया है. जिसके बाद इसको लेकर कई तरह की चर्चा शुरू हो गई है.

इस कार्यक्रम में केंद्रीय ऊर्जा मंत्री सह आरा सांसद आरके सिंह, मेयर इंदु देवी, विधान परिषद अवधेश नारायण सिंह और जीवन कुमार के अलावे सातों विधानसभा के विधायकों के नाम आमंत्रण पत्र पर दर्ज है. इस आमंत्रण पत्र में जेडीयू विधान पार्षद राधा चरण साह का नाम भी लिखा गया है. अब जैसे ही ये आमंत्रण पत्र सामने आया है, सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा है.

वहीं, आम लोगों के बीच जिला प्रशासन का आमंत्रण पत्र हास्यास्पद बना हुआ है. हालांकि कुछ लोगों की मानें तो इसे प्रोटिकोल भी माना जा रहा है, क्योंकि जेल में बंद राधा चरण साह के ऊपर लगे कोई भी आरोप साबित नहीं हए हैं. वर्तमान में वो आरा-बक्सर के एमएलसी हैं, लिहाजा उनका नाम आमंत्रण पत्र पर लिखा गया है. हालांकि अभी तक इसको लेकर प्रशासन की ओर से कोई सफाई सामने नहीं आई है.

आपको बताते चलें कि, 13 सितंबर को ईडी ने जेडीयू विधान पार्षद को गिरफ्तार किया था. टैक्स चोरी मामले में उनको आरा स्थित उनके फॉर्म हाउस से अरेस्ट किया गया. इससे पहले कई बार उनके ठिकानों पर ईडी और इनकम टैक्स विभाग ने छापेमारी की थी. उन पर बालू के अवैध कारोबार समेत अवैध तरीके से अकूत संपत्ति बनाने का आरोप है.