Daesh News

झारखंड में अब उच्च एवं तकनीकी शिक्षा के मेधावी छात्रों को वित्तीय संसाधनों की कमी के कारण नहीं रहेंगे वंचित, छात्रों को साधारण ब्याज 4% की वार्षिक रियायत दरों पर 15 लाख का ऋण प्रदान किया जाएगा, इस योजना के माध्यम से भारत के शीर्ष संस्थानों में अध्ययन के लिए 2000 से अधिक विद्यार्थियों को दिया जाएगा ऋण ....

झारखंड के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा विभाग के द्वारा एक समर्पित पोर्टल विकसित किया जा रहा है , इस योजना में सभी बैंकों और वित्तीय संस्थानों को शामिल किया जा रहा है।

  "आपकी सरकार आपके द्वारा " अभियान के दौरान विद्यार्थियों से उत्साह जनक प्रतिक्रिया प्राप्त करने के बाद सरकार ने एक कदम बढ़ाने का फैसला लिया है।

मुख्य बात यह की सरकार यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा जीपीएससी संयुक्त सेवा परीक्षा बैंक पो बैंक लिपिक रेलवे भर्ती बोर्ड और कर्मचारी चयन आयोग की समूह ए और भी परीक्षाओं में शीर्ष नौकरियों में चयनित विद्यार्थियों के सपने को पूरा करने के लिए इस योजना के द्वारा प्रतिष्ठित सूचीबद्ध कोचिंग संस्थानों में निशुल्क कोचिंग उपलब्ध कराया जाएगा।

साथ-साथ मुख्यमंत्री शिक्षा प्रोत्साहन योजना के तहत इंजीनियरिंग, मेडिकल ,होटल मैनेजमेंट ,मास कम्युनिकेशन ,फैशन डिजाइनिंग/ टेक्नोलॉजी जैसी राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षाओं की तैयारी में विद्यार्थियों की सहायता के लिए इस योजना के द्वारा प्रतिष्ठित सूचीबद्ध कोचिंग संस्थानों में भी विद्यार्थियों को निशुल्क कोचिंग उपलब्ध करवाएगी ,

झारखंड में जितनी भी सरकार के द्वारा संचालित तकनीकी शिक्षण संस्थान है उनके इंफ्रास्ट्रक्चर को दुरुस्त करने की कवायत भी शुरू करेगी विभाग!!!