Daesh News

झारखंड में अब डी -लिस्टिंग की मांग तेज हो रही है तो वहीं दूसरी तरफ आदिवासी समुदाय के लोग 4 फरवरी को आदिवासी एकता महारैली निकाल रहे हैं । इस रैली में बीजेपी आरएसएस और संघ के खिलाफ भी आदिवासी समाज करेगा विरोध प्रदर्शन।

4 फरवरी को होने वाली आदिवासियों की महारैली में भाजपा और आरएसएस के लोगों के द्वारा आदिवासियों पर किये जा रहा है शोषण के विरोध में करेगी विशाल प्रदर्शन।

झारखंड प्रदेश आदिवासी समाज के द्वारा आदिवासियों के विभिन्न मुद्दों को लेकर 4 फरवरी 2024 को मोराबादी मैदान में आदिवासी एकता महारैली होना है ..... जिसको लेकर आज रांची में एकदिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस मौके पर आदिवासी नेता बंधु तिर्की ने दावा किया है कि 4 फरवरी 2024 को प्रस्तावित आदिवासी एकता महारैली में झारखंड के आदिवासियों के मुद्दों की बात होगी। कुछ महीने बाद लोकसभा चुनाव है और उसके बाद झारखंड में विधानसभा चुनाव भी है ......इसको देखते हुए भाजपा एवं आरएसएस जैसे संगठनों ने विभिन्न माध्यमों से आदिवासियों को बांटने की कोशिश शुरू कर दी है। जिस प्रकार से राज्य में आदिवासियों की जमीन लूटी जा रही है इस पर कहीं ना कहीं  है।