Daesh News

जोगवनी पुलिस ने अंतर्राष्ट्रीय साइबर अपराधियों के खिलाफ की बड़ी कार्रवाई

ARARIA - भारतीय मोबाइल सिमकार्ड के जरिये नेपाल में सट्टाबाजी कराने वाले तीन साइबर अपराधी को जोगबनी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। इन गिरफ्तार अपराधियों में एक भारतीय और दो नेपाली नागरिक भी शामिल हैं। इन सभी के पास से पुलिस ने भारी मात्रा में भारतीय सिमकार्ड, लैपटॉप, मोबाइल के साथ, नेपाली और इंडियन करेंसी भी जब्त किया है।

 इस कार्रवाई को लेकर एसपी अमित रंजन ने बताया कि जोगबनी पुलिस को गुप्त सुचना प्राप्त हुआ था कि जोगबनी थानातर्गत बॉडर के नजदीक के ईन्द्रानगर टिकुलिया बस्ती में अवैध रूप से साइबर क्राइम का धंधा किया जा रहा है। जैसे ही इसबात की जानकर एसपी को मिली उन्होंने तत्काल एक टीम का गठन किया।  एसपी के निर्देश पर फारबिसगंज अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मुकेश कुमार साह के नेतृत्व में जोगबनी थानाध्यक्ष राजीव कुमार आज़ाद और डीआईयू टीम गठित की गई। टीम के द्वारा जोगबनी के इंद्रानगर स्थित टिकुलिया बस्ती में छापेमारी की। टिकुलिया बस्ती में मो०समी अंसारी उर्फ बिक्की पिता मो० समा अंसारी के घर पर छापेमारी की। 

जहां पुलिस ने देखा कि अन्य किसी व्यक्ति का आधार कार्ड एवं आंख का रेटिना का फोटो खींचकर हेरा-फेरी करके एक ही व्यक्ति के नाम पर अनेकों भारतीय मोबाईल सीम कार्ड लेने का कारोबार किया जा रहा था। पुलिस को पता चला कि इन सिमकार्ड को एक्टिभेट कर नेपाल में बेचा जाता है।

 जिसका दुरूपयोग कर साईबर फ्रॉड का कारोबार किया जाता है। एसपी ने बताया कि इन भारतीय सिमकार्ड के जरिये नेपाल से अवैध रूप से सट्टा का कारोबार किया जाता है। 

-

एसपी अमित रंजन ने बताया कि इस बड़ी कार्यवाई में मौके से एक भारतीय के साथ दो नेपाली नागरिक की गिरफ्तारी की गई है। पुलिस ने इनके पास से 50 हजार 300  भारतीय रूपया, और 8 हजार 500 नेपाली रूपया बरामद किया। इसके अलावा 2 आई०फोन०, 9 मोबाईल फोन, 2 लैपटॉप एवं 114 सिमकार्ड जिनमें 55 एक्टीभेटेड सीम कार्ड और 59 अनएक्टीभेटेड सीम कार्ड बरामद किया गया.

Scan and join

Description of image