Daesh News

टीचर की तरह ही अब DEO के खिलाफ भी होगी कार्रवाई, ACS S. सिद्धार्थ ने जारी किया पत्र..

Patna- केके पाठक द्वारा विद्यालयों में अनुश्रवण की प्रक्रिया जो शुरू की गई थी वह आगे भी जारी रहेगी और प्रभारी अपर मुख्य सचिव डॉक्टर एस सिद्धार्थ ने इस अनुश्रवण व्यवस्था को और पुख्ता और सख्त करने की प्रक्रिया शुरू की है. इसके लिए उन्होंने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारी को पत्र भेजा है और कई तरह के निर्देश दिए हैं.

 इस पत्र  के अनुसार अनुश्रवण में अब शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ ही जिले के डीडीसी को भी अहम जिम्मेदारी दी गई है. जहां शिक्षा विभाग के अधिकारी स्कूल एवं अन्य कार्यों का अनुश्रवण कर सकेंगे. वही डीडीसी या उनके द्वारा नियुक्त अधिकारी जिला शिक्षा पदाधिकारी समेत अन्य शिक्षा विभाग के बड़े अधिकारियों के के कार्यालय और उनके कामकाज का अनुश्रवण कर सकेंगे और उनकी रिपोर्ट के आधार पर जिला शिक्षा पदाधिकारी के खिलाफ भी करवाई इस तरह होगी जैसे एक शिक्षक या कर्मचारी के खिलाफ हो रही है.

 बताते चलें कि अभी राज्य के शिक्षा विभाग में करीब 8 हजार पदाधिकारी एवं कर्मियों की सहायता से स्कूलों का अनुसरण किया जा रहा है जिसमें शिक्षकों और छात्र-छात्राओं के एक्टिविटी पर फोकस किया जा रहा है. विलंब से आने वाले या लापरवाही करने वाले हजारों  शिक्षक एवं प्रधानाध्यापक के खिलाफ वेतन कटौती या बंद करने की कार्रवाई हो चुकी है. पर अब इन स्कूलों में न सिर्फ विलंब से आने वाले छात्र-छात्राओं और शिक्षकों की रिपोर्ट बनाई जाएगी बल्कि क्लास रूम में कैसे बेहतर माहौल बने इस पर भी ध्यान दिया जाएगा और इसके लिए अनुश्रवण करने वाले पदाधिकारी स्कूल प्रबंधन के साथ विशेष बैठक भी करेंगे जिसमें एकेडमिक एक्टिविटी के साथ ही छात्रों के extra curricular activities तथा वर्ग संचालन समिति अन्य एक्टिविटी का अनुश्रवण किया जाएगा.

 अपर मुख्य सचिव के पत्र के अनुसार अनुश्रवण में आधारभूत संरचना, छात्र और शिक्षकों के लिए अलग-अलग  निर्देश जारी किए गए हैं. यह पत्र इस प्रकार है..

Scan and join

Description of image