Daesh News

केके पाठक ने ले लिया फैसला, इन शिक्षकों को पहले दी जाएगी स्कूलों में पोस्टिंग

बिहार लोक सेवा आयोग की ओर से बिहार के स्कूलों में एक के बाद एक शिक्षकों की नियुक्तियां की जा रही है. इसी क्रम में सूबे में बीपीएससी की दूसरे चरण की अध्यापक नियुक्ति परीक्षा के आधार पर शिक्षकों की नियुक्ति हो रही है. वहीं, अब जो जानकारी सामने आई है उसके मुताबिक, अध्यापक पद पर नियुक्ति के लिए चयनित अभ्यर्थियों में सबसे पहले 11वीं और 12वीं कक्षा के चयनित तकरीबन 35 हजार अध्यापकों को विद्यालय आवंटित होगा. वहीं, इसके पीछे की वजह यह बताई जा रही है कि, राज्य में शिक्षकों की कमी है. ऐसे में 11वीं और 12वीं कक्षा के लिए चयनित शिक्षकों को पहले स्कूल आवंटित किया जाएगा, क्योंकि ये शिक्षक 9वीं-10वीं कक्षा में भी पढ़ा सकते हैं. 11वीं-12वीं का जो शिक्षक होता है, वो नीचे की क्लास को आसानी से संभाल सकता है.

इन 35 हजार शिक्षकों की पहले होगी नियुक्ति

बता दें कि, 35 हजार शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक के द्वारा आदेश दिया गया है. केके पाठक ने राज्य के सभी जिलों के जिलाधिकारी, जिला शिक्षा पदाधिकारी के नाम आदेश जारी किया है. जारी किए गए आदेश की माने तो, 11वीं और 12वीं कक्षा के लिए अध्यापक की नियुक्ति स्कूलों में छात्र संख्या के अनुपात में होगी. इसके लिए शिक्षकों का रेशनलाइजेशन होगा. ताकि हर विद्यालय में छात्रों की संख्या के अनुपात में शिक्षकों की नियुक्ति हो सके. इधर बीपीएससी की दूसरे चरण की अध्यापक नियुक्ति परीक्षा के आधार पर चयनित अध्यापकों की पोस्टिंग सॉफ्टवेयर से होगी. 

सॉफ्टवेयर से होने वाली है पोस्टिंग

सॉफ्टवेयर से होने वाली पोस्टिंग, शिक्षा विभाग के राज्य मुख्यालय से की जाएगी. इसके मद्देनजर रेशनलाइजेशन के बाद शिक्षकों को स्कूल आवंटित किया जाएगा. इधर, हम आपको एक बार फिर से याद दिला दें कि, पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में 13 जनवरी को होने वाले दूसरे चरण के शिक्षक नियुक्ति पत्र वितरण समारोह होने वाला है. इस समारोह का लाइव प्रसारण किया जाएगा. शिक्षक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अपने-अपने स्कूल में जुड़ कर मुख्यमंत्री की ओर से दी जा रही नियुक्ति पत्र का लाइव देख सकते हैं. दूसरी ओर केके पाठक के द्वारा एक का बाद एक फरमान जारी किए जा रहे हैं. जिसका किसी की ओर से सराहना की जा रही है तो वहीं कुछ लोगों में आक्रोश भी व्याप्त है.