Daesh News

लालू यादव के पोते ने पटना में सरकारी अधिकारी की कर दी पिटाई, हालत गंभीर!

बिहार की राजधानी पटना से सनसनीखेज मामला सामने आया है. गया में तैनात एक कार्यापालक अधिकारी के साथ मारपीट की गई है. गंभीर रूप से घायल अधिकारी को इलाज के लिए दिल्ली भेजा गया है. आरोप है कि नशे में धुत कुछ युवकों ने अधिकारी के साथ मारपीट की. मारने वाला बार-बार कह रहा था कि मेरा नाम तनुज यादव है, मैं नागेन्द्र यादव का बेटा हूं, जो करना है कर लो. परिजनों की शिकायत पर रूपसपुर थाने में मामला दर्ज कराया गया है जिसमें आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के भतीजे नागेंद्र राय के बेटे को आरोपी बनाया गया है. पटना पुलिसर के अनुसार आरोपी की गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.

बताया जा रहा है कि घटना मंगलवार देर रात की है. उप नगर आयुक्त अरविंद कुमार सिंह पटना के गोला रोड से बोरिंग रोड स्थित अपने घर जा रहे थे. रात 9.20 बजे गोला रोड स्थित नशे में धुत कुछ युवकों ने उनकी स्कॉर्पियों को रोक लिया. अरविंद सिंह के भाई विजय सिंह भी उस गाड़ी में मौजूद थे. विजय सिंह ने बताया कि गाड़ी रोकने वाले नेशे में थे. अरविंद सिंह युवकों से बात करने के लिए गाड़ी से नीचे उतरे तो उन लोगों ने हमला कर दिया.

मेरा नाम तनुज यादव है...

विजय सिंह के अनुसार, हमला करने वालों में से एक अपना नाम तनुज यादव बता रहा था. वह बार-बार कह रहा था कि मेरा नाम तनुज यादव है. मैं नागेंद्र यादव का बेटा हूं. जो करना होगा, कर लेना. विजय सिंह से जब पूछा गया कि कौन है तनुज यादव और नागेंद्र यादव, इस पर उन्होंने कहा कि मैं नहीं जानता कि ये कौन हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि बातचीत के दौरान ही तनुज ने अरविंद सिंह पर रॉड से हमला कर दिया. वह गाड़ी की चाबी छीनना चाह रहा था. पैसे लूटने की कोशिश की. इसके लिए उसने अरविंद सिंह की बर्बर तरीके से पिटाई की.

दर्ज एफआईआर में अरविन्द सिंह के भाई विजय सिंह ने बताया है कि हमला करने वालों में से एक अपना नाम तनुज यादव बता रहा था. वह बार बार कह रहा था-मेरा नाम तनुज यादव है, मैं नागेंद्र यादव का बेटा हूं, लालू यादव मेरे बाबा हैं...तनुज यादव ने रॉड से उप नगर आयुक्त अरविंद कुमार पर हमला कर दिया. वह उनकी गाड़ी की चाबी छीनना चाह रहा था. इसी क्रम में उप नगर आयुक्त अरविंद कुमार सिंह की बर्बर तरीके से पिटाई की गई. 

गंभीर हालत में दिल्ली रेफर

विजय सिंह ने बताया कि अरविंद कुमार सिंह को सड़क पर खून से लथपथ छोड़ कर तनुज यादव और उसके साथी फरार हो गए. बाद में घायल अरविंद को आनन-फानन में इलाज के लिए पटना के राजा बाजार स्थित एक निजी अस्पताल में एडमिट कराया गया. वहां उनकी हालत ज्यादा गंभीर होने के कारण दिल्ली रेफर कर दिया गया. परिजन उन्हें लेकर दिल्ली रवाना हो गये हैं. विजय सिंह ने बताया कि मामले की जानकारी पुलिस को दे दी गई है. एफआईआर दर्ज होने की जानकारी नहीं है, क्योंकि हमलोग अस्पताल में थे. मामले में दानापुर के एएसपी अभिनव धीमान ने बताया है की आरोपी की गिरफ़्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है.