Daesh News

छठ से ठीक पहले बिहार में नहाय खाय की रात से खरना की सुबह तक 5 की मौत, गांव में पसरा सन्नाटा

पूर्ण शराबबंदी वाले राज्य बिहार में एक बार फिर से जहरीली शराब ने 5 लोगों की जान ले ली है. हालांकि इस मौत को संदेहास्पद बताया जा रहा है और इसे शराब से मौत हुई है कि नहीं इसपर कुछ कहा नहीं जा रहा है. इस मामले में एक की हालत गंभीर है और उसका इलाज चल रहा है. वहीं अब इस मामले में  SP मनोज कुमार तिवारी ने कार्रवाई करते हुए जहरीली शराब मामले में सब इंस्पेक्टर अरुण गुप्ता सहित स्थानीय 2 चौकीदार को भी निलंबित कर दिया गया है.

हालांकि इस पूरे मामले में जहरीली शराब से मौत की आशंका जताई जा रही है, वहीं पुलिस की तरफ से शराब के 2 धंधेबाजों को गिरफ्तार किया गया है. बिहार में सीतामढ़ी जिले के बाजपट्टी थाना क्षेत्र में कथित रूप से संदिग्ध जहरीली शराब पीने से 5 लोगों की मौत हो जाने का मामला प्रकाश में आया है. पुलिस ने यह जानकारी दी. 

पुपरी अनुमंडल पुलिस अधिकारी (एसडीपीओ) विनोद कुमार शनिवार को बताया कि पुलिस को सूचना मिली है कि मृतकों में से दो का अंतिम संस्कार उनके परिजनों द्वारा कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि इन दोनों के परिजन कह रहे हैं इन दोनों की मौत बीमारी के कारण हुई है. जिससे उनकी मौत संदिग्ध शराब पीने से होने की पुष्टि नहीं हो पाई है. 

उनके अनुसार पुलिस द्वारा मामले की छानबीन की जा रही है. कुमार का कहना है कि संदिग्ध शराब पीने से अवधेश राय समेत दो अन्य लोगों की मौत अस्पताल में इलाज के दौरान हुई है और अब उनके शवों का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है. उनके मुताबिक पोस्टमार्टम के बाद ही यह स्पष्ट हो पाएगा कि उनकी मौत संदिग्ध शराब पीने या अन्य किसी कारण से हुई. एसडीपीओ ने बताया कि सीतामढ़ी पुलिस अधीक्षक मनोज तिवारी के नेतृत्व में उक्त इलाके में छापामारी की गई है और अवैध शराब बेचने वाले दो लोगों को गिरफ्तार कर पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है. कुमार के अनुसार गिरफ्तार लोगों के पास से कुछ सामग्री भी बरामद की गई है.