Daesh News

शराब माफियाओं के हौसले बुलंद, उत्पाद विभाग की टीम पर किया हमला

बिहार में शराबबंदी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक है. आये दिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लोगों को शराबबंदी को लेकर जागरूक करते हुए देखे जाते हैं. इसके साथ ही बिहार में जितने भी पुलिसकर्मी हैं, उन्हें शराब की तस्करी पर विराम लगाने को लेकर कड़े निर्देश दिए गए हैं. हर एक चेक-पोस्ट पर पुलिस की तैनाती कर दी गई है ताकि राज्य में शराब नहीं पहुंच सके. लेकिन, दूसरी तरफ लोगों की मनमानी थमने का नाम नहीं ले रही है. आये दिन लोग शराबबंदी कानून को मानो ठेंगा दिखा रहे हो. 

शराब माफियाओं के हौंसले बुलंद 

इस बीच खबर वैशाली जिले से सामने आई है जहां शराब माफियाओं का मनोबल चरम पर पहुंच गया है. आए दिन शराब माफिया उत्पाद विभाग पर हमला कर दे रहे हैं. ताजा मामला जिले के बेलसर ओपी क्षेत्र के नगमा गांव का है. जहां, उत्पाद विभाग को लगातार शराब की सूचना मिल रही थी. इसी सूचना के आधार पर देर शाम उत्पाद विभाग की टीम छापामारी करने नगमा पहुंची तभी शराब माफियाओं ने उत्पाद विभाग पर हमला कर दिया. 

उत्पाद विभाग की गाड़ी क्षतिग्रस्त

जिसमें उत्पाद विभाग की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई. पुलिसकर्मी अपनी जान बचाकर वहां से निकली. घटना की सूचना स्थानीय बेलसर ओपी को दी गई. घटना की सूचना मिलते ही बेलसर ओपी अध्यक्ष सुनील कुमार दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और पूरे मामले की जांच पड़ताल में जुट गए हैं. पुलिस हमला करने वाले शराब माफिया और उनके सहयोगियों की पहचान करने में जुटी है.