Daesh News

ICC World Cup 2023 : वानखेड़े में आया मैक्सवेल का तूफान, खेल दी वनडे की सर्वश्रेष्ठ पारी

ऑस्ट्रेलिया के स्टार ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने मंगलवार को वर्ल्ड कप 2023 में अफगानिस्तान के खिलाफ ऐसी पारी खेली जो अद्भुत भी थी और अविश्वसनीय भी. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज कप्तान रिकी पोंटिंग कहते हैं, मैक्सवेल ने ऐसी पारी खेली जिसपर यकीन करना मुश्किल है. उन्होंने कहा कि ऐसी पारी फिर शायद ही फिर देखने को मिले. मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में अफगानिस्तान द्वारा दिए 292 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए मैक्सवेल ने दोहरा शतक ठोका और ऑस्ट्रेलिया की जीत की कहानी लिखी. मैक्सवेल ने 128 गेंदों में नाबाद 201 रन बनाए, जिसमें उनके बल्ले से 21 चौके और 10 छक्के आए. मैक्सवेल उस समय क्रीज पर आए थे, जब ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 91 रन पर सात विकेट था. अफगानिस्तान को जीत की खुशबु आ रही थी लेकिन मैक्सवेल कुछ और ही सोच कर आए थे. उन्होंने मोर्चा संभाला और कप्तान पेट कमिंस के साथ मिलकर आठवें विकेट के लिए 202 रनों की साझेदारी कर डाली. ऑस्ट्रेलिया ने इस शानदार जीत के साथ सेमीफाइनल में एंट्री मार ली है. मैक्सवेल ने डबल सेंचुरी ठोककर रेकॉर्डों की झड़ी लगा दी है. चलिए आपको बताते हैं , मैक्सवेल द्वारा बनाए गए 6 रिकार्ड्स के बारे में, जो उन्होंने अफगानिस्तान के खिलाफ आतिशी दोहरा शतक लगाकर बनाया . 

1. मैक्सवेल वनडे इतिहास में लक्ष्य का पीछा करते हुए दोहरा शतक जड़ने वाले इकलौते क्रिकेटर बन गए हैं. उनसे पहले वनडे रन चेज में सर्वोच्च व्यक्तिगत स्कोर पाकिस्तान के ओपनर फखर जमान के नाम था, जिन्होंने 2021 में साउथ अफ्रीका के विरुद्ध 193 रन बनाए. उनके बाद लिस्ट में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व ऑलराउंडर शेन वाटसन जिन्होंने नाबाद 185 रनों की पारी खेली थी, पूर्व भारतीय कप्तान एमएस धोनी और दिग्गज बल्लेबाज विराट कोहली ने 183 रन बनाए हैं. 

2. मैक्सवेल ऑस्ट्रेलिया के लिए वनडे में डबल सेंचुरी लगाने वाले पहले खिलाड़ी बन गए हैं. 

3. मैक्सवेल वनडे क्रिकेट में सबसे तेज दोहरा शतक लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं. उनसे आगे भारत के ईशान किशन हैं, जिन्होंने 126 गेंदों में यह कारनामा किया था. वेस्टइंडीज के दिग्गज क्रिस गेल तीसरे नंबर पर हैं, उन्होंने 138 गेंदों में ऐसा किया है. 

4. मैक्सवेल ने वनडे क्रिकेट में नॉन ओपनर बल्लेबाज के रूप में सबसे बड़ा स्कोर बनाने का कारनामा किया है. उन्होंने जिम्बाब्वे के चार्ल्स कोवेंट्री को पीछे छोड़ा, जिन्होंने 2009 में बांग्लादेश के खिलाफ नाबाद 194 रन जोड़े थे. उनके बाद सूची में वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटर विव रिचर्ड्स हैं, जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ 1994 में नाबाद 189 रन बनाए थे. 

5. मैक्सवेल ने वर्ल्ड कप में तीसरा हाईएस्ट इंडिविजुअल स्कोर बनाया है. वर्ल्ड कप में सबसे बड़ी पारी का रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के मार्टिन गप्टिल के नाम दर्ज है. गप्टिल ने 2015 में वेस्टइंडीज के सामने नाबाद 237 रन की पारी खेली थी. दूसरे नंबर पर वेस्टइंडीज के क्रिस गेल हैं, जिन्होंने जिम्बाब्वे के खिलाफ 2015 में 215 रन बनाए थे. 

6. मैक्सवेल वर्ल्ड कप इतिहास में सबसे अधिक छक्के लगाने वाले तीसरे खिलाड़ी बन गए हैं. वह कुल 43 छक्के जमा चुके हैं. उन्होंने साउथ अफ्रीका के दिग्गज एबी डिविलियर्स के रिकॉर्ड को धवस्त किया, जिनके खाते में 37 छक्के हैं. क्रिस गेल 49 छक्कों के साथ टॉप पर हैं जबकि टीम इंडिया के कप्तान रोहित शर्मा 45 छक्कों के साथ दूसरे स्थान पर हैं. 

मैक्सवेल की इस पारी की खास बातें ये रही कि मैक्सवेल ने बिना फुटवर्क के बल्लेबाजी की. जो भी बल्लेबाज बिना फुटवर्क के चौके-छक्के लगाना चाहते हैं वो मैक्सवेल की इस पारी से सीखें. क्रिकेट फैंस और एक्सपर्ट मैक्सवेल की आतिशी पारी को देखकर उन्हें सलाम कर रहे हैं और उनकी इस पारी को सर्वकालिक सर्वश्रेष्ठ पारी बता रहे हैं.