Daesh News

MP के CM मोहन यादव ने तेजस्वी समेत INDIA गठबंधन पर साधा निशाना

GAYA- मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कांग्रेस के साथ ही तेजस्वी यादव पर करारा हमला किया है. दो दिवसीय गया दौर पर पहुंचे कम मोहन यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि 200 रैली करने के खुशी में  तेजस्वी यादव को

 केक काटने के बजाए रिजल्ट पर ध्यान देना इसके साथ ही उन्होंने कहा  कि 2024 का बहुमत स्पष्ट है. मोदी जी ने 2014 में पूर्ण बहुमत कहा था, वह प्राप्त हुआ. 2019 में 300 के पार कहा, वह पार किया. अब 2024 में 400 के पार भी करेंगे. पांच चरण के चुनाव के बाद स्थिति बिल्कुल स्पष्ट हो गई है.

 सीएम मोहन यादव ने कांग्रेस समेत इंडी गठबंधन पर करारा प्रहार किया. कहा कि कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस पार्टी ने अब तक जिन्ना की विभाजनकारी मानसिकता को ही विकसित किया है, जिनके कारण देश का बंटवारा हुआ था. वहीं, कोलकाता हाईकोर्ट के निर्णय पर, जिसमें धर्म आधारित आरक्षण नहीं हो सकता है, का निर्णय दिया गया है, कहा कि कोलकाता हाई कोर्ट के फैसले के बाद अब स्पष्ट हो गया है, कि यह लोग संविधान की भावना के विरुद्ध हैं.उन्होंने कहा  कि कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ने यह माना है, कि कांग्रेसियों ने अब तक एससी-एसटी ओबीसी का नुकसान किया है और उनके साथ अन्याय करती रही है. बात चाहे पंडित जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी, मनमोहन सिंह, राजीव गांधी की हो तो उनके प्रधानमंत्री के कार्यकाल में भी एससी एसटी ओबीसी के साथ अन्याय किया गया. कई दशकों से झूठ बोलकर राजनीतिक की गई.हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते आए हैं कि कांग्रेस इंडी गठबंधन के लोग एससी एसटी ओबीसी के साथ झूठ बोलते हैं. यह भी बता दें कि ओबीसी आयोग की संवैधानिक मान्यता भी इनके कार्यकाल में नहीं दी गई है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में ओबीसी को संवैधानिक मान्यता देने का काम किया गया.

 कोलकाता हाई कोर्ट का निर्णय आया है, जिसमें कहा गया है कि धर्म आधारित आरक्षण नहीं हो सकता है. जाति आधारित आरक्षण हो सकता है. धर्म आधारित आरक्षण संविधान की भावना के विरुद्ध है. कांग्रेस कर्नाटक में इस तरह का काम कर रही है. वहीं, ममता बनर्जी भी ऐसा कर रही है. वह यहां तक कह रही है, कि वह इस तरह के फैसले को नहीं मानती. इस तरह यह लोग कांग्रेस टीएमसी के लोग जिन्ना की विभाजनकारी मानसिकता को विकसित कर रहे हैं, जिनके कारण देश का बंटवारा हुआ था.

मोहन यादव ने यह भी कहा कि अलीगढ़, जामिया जैसे शिक्षण संस्थान में ओबीसी एससी एसटी का आरक्षण कांग्रेसियों ने समाप्त किया. उनके अतीत के पाप खराब है. नेहरू हो या इंदिरा गांधी इन्होंने खुद को भी भारत दे दिया, लेकिन भीमराव अंबेडकर को भारत नहीं दिया. संविधान निर्माण का श्रेय भी कांग्रेसी भीमराव अंबेडकर को नहीं देते थे. भाजपा समर्थित सरकार ने ही भीमराव अंबेडकर को भारत रत्न दिया. कहा कि पार्लियामेंट के सामने अंबेडकर साहब का तैल चित्र भी भाजपा ने लगाया है. रघुनाथन मिश्र, सच्चर कमेटी की रिपोर्ट में कहा गया है कि 60 दशकों से अधिक समय तक कांग्रेसियों ने जो काम किया है, वह अन्याय की मानसिकता है. मुस्लमानों का आरक्षण कांग्रेसियों का हिडन एजेंडा है. इंडी गठबंधन एक ही थाली के चट्टे बट्टे हैं. कांग्रेसी ग़रीबी के मामले में झूठ बोलती रही. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सिर्फ इतना कहा कि मुझे नेतृत्व दीजिए और उन्होंने काफी कुछ करके दिखाया है. 25 करोड़ से ज्यादा लोग गरीबी रेखा से बाहर आए हैं. मोहन यादव ने यह भी कहा कि मल्लिकार्जुन खड़गे और कांग्रेस को अब माफी मांगनी चाहिए.

गया से मनीष की रिपोर्ट

Scan and join

Description of image