Daesh News

NEET परीक्षा को लेकर बिहार की राजनीति गर्म, लगातार हो रही है बयान बाजी..

Patna - नीट परीक्षा में गड़बड़ी को लेकर पूरे देश भर में छात्र आंदोलित हैं और इस परीक्षा को रद्द करने की मांग कर रहे हैं. वही इस परीक्षा पेपर के लीक होने को लेकर बिहार की राजनीति गर्म है और सत्ता पक्ष में विपक्ष के बीच आरोप प्रत्यारोप हो रहे हैं. मिली जानकारी के अनुसार आर्थिक अपराध इकाई यानि EOU पेपर लीक मामले में तेजस्वी यादव के प्राइवेट सेकेट्री प्रीतम कुमार को पूछताछ करने के लिए बुलायेगी. ईओयू के सूत्रों के मुताबिक सिकंदर कुमार यादवेंदु से प्रीतम कुमार के डायरेक्ट कनेक्शन के कई तथ्य सामने आये हैं. नीट पेपर लीक होने के बाद सिकंदर यादवेंदु के लिए सरकारी गेस्ट हाउस बुक कराने से लेकर उसकी पोस्टिंग तक में प्रीतम कुमार की भूमिका सामने आ रही है. लिहाजा ईओयू उसे तलब कर पूछताछ करने की तैयारी में है

 इस संबंध में बिहार सरकार के उपमुख्यमंत्री विजय सिंह ने कागज प्रस्तुत करते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव से कई मामलों पर स्पष्टीकरण देने की मांग की है.

 उपमुख्यमंत्री विजय सिन्हा के आरोप पर राष्ट्रीय जनता दल के राज्यसभा सांसद मनोज झा का बड़ा बयान आया है । उन्होंने कहा है कि पूरी तरह से यह बयान झूठ है । लेटर लिख कर रिजर्वेशन कराया गया था । उन्होंने टेलीफोन वाले मामले पर सिर्फ यही कहा कि मीडिया के लोग भी कई बार मंत्री के पीएस को कह देते हैं कि गेस्ट हाउस में एक रूम बोल दीजिए । उन्होंने कहा कि गेस्ट हाउस की बात उठाकर बड़े लोगों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है । बिहार में सरकार नाम की कोई चीज नहीं है । जिनको जहां हो रहा है वह उस मुद्दे पर अपनी बात बोल रहा है ।

 मनोज झा ने कहा कि तत्काल केंद्रीय शिक्षा मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए । 25 लाख विद्यार्थी के गुनहगार हैं देश के प्रधानमंत्री और शिक्षा मंत्री । हमारी मांग है कि तत्काल परीक्षा रद्द हो ।

मनोज झा ने स्पष्ट तौर पर सारे मामले का खुलासा करते हुए प्रीतम कुमार पर लगाए गए सभी आरोप को खारिज कर दिया । उन्होंने यह भी कहा कि पूरी तरह से यह झूठ है पाखंड है कि सिकंदर यदुवेन्दु के रिश्तेदार प्रीतम कुमार हैं ।

सिकंदर यदुवेन्दु को लेकर एक बड़ा खुलासा मनोज झा ने किया है और कहा है कि जल संसाधन विभाग के मंत्री संजय झा के रहते हुए उन्हें दानापुर भेजा गया और तारकेश्वर प्रसाद जो नगर विकास विभाग के मंत्री थे उनके रहते हुए उनको वहां का दो स्थानों का प्रभार भी दिया गया है । ये क्या बोलेंगे ।

 

 

Scan and join

Description of image