Daesh News

करवा चौथ 2023: लंबी उम्र के लिए बीवी कर रही करवा चौथ का कठिन व्रत, तो पति भी ऐसे जताए अपना प्यार

करवाचौथ 1 नंबर यानी बुधवार को है. इस दिन सभी माताएं बहनें अपने पति की लंबी उम्र और अच्छे स्वास्थ्य के लिए करवाचौथ का कठोर निर्जला व्रत करती हैं. पौराणिक मान्यताओं और शास्त्र अनुसार चंद्रपूजन के समय व्रतियां माता करवा की व्रत कथा अवश्य सुनें तभी आपका यह व्रत पूर्ण माना जायेगा और मनोवांछित फल प्राप्त होगा.

इस साल शादीशुदा औरतों के लिए सबसे जरूरी त्यौहार करवा चौथ 1 नवंबर 2023 को मनाया जाएगा. यह व्रत शादीशुदा महिलाएं अपने पति के लंबी उम्र के लिए रखती है. इस व्रत को कर रही महिलाएं सूर्योदय से चंद्रोदय तक बिना पानी और खाने के उपवास करती हैं. वैसे तो मान्यता यह है कि पत्नियां यह व्रत अपने पति के लिए करती है, लेकिन आज के समय में कई पति अपनी पत्नी के साथ मिलकर उसके लिए करवा चौथ का उपवास करते हैं.

पति द्वारा किया गया छोटा सा यह प्रयास रिश्ते की उम्र और इसमें प्यार को बढ़ाने में बहुत मददगार साबित होता है। लेकिन रिश्ते को मजबूत करने के लिए भूखे रहना ही एकमात्र रास्ता नहीं है, पति उपवास के दिन कुछ अन्य चीजों को करके भी पत्नी को अपना प्यार और सपोर्ट जता सकता है. यहां हम आपको ऐसी ही कुछ चीजों के बारे में डिटेल में बता रहे हैं.

पत्नी के प्री-फास्टिंग डाइट का ध्यान रखें

फास्टिंग से पहले बॉडी को इसके लिए तैयार करना बहुत जरूरी होता है, वरना कुछ घंटों में ही कमजोरी और बेहोशी आने लगती है. घर और बच्चों की जिम्मेदारियों में आमतौर पर औरतें फास्टिंग से पहले अपने डाइट पर ध्यान नहीं दे पाती है.

ऐसे में पति को चाहिए कि यदि पत्नी करवा चौथ का निर्जला व्रत रख रही है तो यह सुनिश्चित करें कि वह एक दिन पहले हेल्दी खाना खाए, और पर्याप्त पानी पिए. उसे नारियल पानी, लस्सी, छाछ से ड्रिंक पिलाएं.

पत्नी के साथ समय बिताएं

ध्यान रखें करक चतुर्थी का व्रत पत्नी सिर्फ आपके लिए कर रही है, ऐसे में उसके साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताकर आप उसे अच्छा महसूस करा सकते हैं. यदि संभव हो, तो अपनी पत्नी के साथ समय बिताने के लिए काम से ब्रेक लें। उसके सभी प्रयासों और प्यार के लिए अपना आभार व्यक्त करें. यह दिन अपनी पत्नी के प्रयासों और बलिदानों को पहचानना उसके प्यार और भक्ति के प्रति अपनी सराहना दिखाने का एक शानदार मौका है.

घर के काम में करें बीवी की मदद

जितना हो सके घर का काम निपटाने में बीवी की मदद करें. यदि मुमकिन हो तो उसे पूरे दिन भर के लिए रेस्ट करने को कहे और सारा काम खुद करे. इससे उसे ज्यादा कमजोरी नहीं होगी और व्रत अच्छी तरह से पूरा हो जाएगा.

लड़ाई झगड़ा ना करें

इस दिन पत्नी के साथ किसी भी तरह का झगड़ा या बहस ना करें. जैसे ही इस तरह का सिचुएशन बनते दिखे तुरंत शांत हो जाएं, और अच्छी बातें करके अपनी पत्नी को भी शांत करें. इस पावन अवसर पर घर के वातावरण को खुशनुमा और सकारात्मक ऊर्जा से भरकर रखें.

पत्नी के लिए सरगी तैयार करें

यदि पहले कभी नहीं किया तो सरगी तैयार करते देख आपकी पत्नी आपसे बहुत ही ज्यादा खुश होने वाली है. आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते कि आपका एक दिन किया हुआ ये छोटा सा प्रयास आपके रिश्ते को कैसे प्यार से भर सकता है.

साथ ही ध्यान रखें कि व्रत वाले दिन घर में कुछ ऐसा ना बने कि पत्नी के मन में खाने का ख्याल आए. यदि बीवी पहली बार करवा चौथ कर रही है तो आपकी ये छोटी सी कोशिश उसके उपवास को बहुत आसान बना सकती है.