Daesh News

महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर PM मोदी ने किया याद, दी श्रद्धांजलि

भारत वासियों के लिए 2 अक्टूबर यानी कि आज का दिन बेहद खास माना जाता है. ये दिन दो महान विभूतियों के जन्मदिन के तौर पर इतिहास पर दर्ज है. राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का जन्म इस दिन हुआ था. गांधी ने अपने विचारों से देश को स्वतंत्रता और इसके बाद आजाद भारत को आकार देने में बड़ी भूमिका निभाई. वहीं, लाल बहादुर शास्त्री की सादगी और विनम्रता के लोग कायल थे. उन्होंने 1965 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान 'जय जवान जय किसान' का नारा दिया था.

PM नरेंद्र मोदी ने दी श्रद्धांजलि 

देश आज राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्‍त्री की जयंती मना रहा है. महात्मा गांधी की समाधि 'राजघाट' पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्‍ट्रपति द्रौपदी मुर्मू, उपराष्‍ट्रपति जगदीप धनखड़, कांग्रेस के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे सहित गणमान्‍य व्‍यक्ति ने श्रद्धांजलि अर्पित की. इसके साथ ही लाल बहादुर शास्‍त्री की समाधि 'विजय घाट' पर भी पीएम मोदी समेत अन्य नेताओं ने श्रद्धांजलि अर्पित की. इस दौरान पीएम मोदी ने बताया कि, किस तरह से राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व पीएम लाल बहादुर शास्त्री ने देश के विकास और भलाई के लिए काम किया. पीएम मोदी ने गांधी जी शिक्षा को अपने जीवन में अपनाने और उनसे प्रेरित होने की बात भी कही. 

सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स पर लिखा बहुत कुछ 

बापू को श्रद्धांजलि देते हुए पीएम मोदी ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा कि, 'मैं गांधी जयंती के इस खास मौके पर महात्मा गांधी के आगे सिर झुकाता हूं. उनकी कालजयी शिक्षाएं हमेशा ही हमारा रास्ता रोशनी से भरती रही हैं. महात्मा गांधी का प्रभाव वैश्विक स्तर पर है, जो संपूर्ण मानव जाति को एकता और करुणा की भावना को आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित करता है. हम सदैव ही उनके सपनों को पूरा करने की दिशा में काम करते रहें. उनके विचार हर एक युवा को उस परिवर्तन का वाहक बनने में सक्षम बनाएं, जिसका उन्होंने सपना देखा था, ताकि एकता और सद्भाव को बढ़ावा मिले.' बता दें कि, महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर, 1869 को गुजरात में हुआ था, जबकि पूर्व पीएम लाल बहादुर शास्त्री 2 अक्टूबर, 1904 को उत्तर प्रदेश में पैदा हुए. 

लाल बहादुर शास्त्री को भी किया नमन 

इसके साथ ही पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को भी पीएम मोदी ने श्रद्धांजलि दी. उन्होंने लिखा, 'लाल बहादुर शास्त्री को उनकी जयंती पर याद कर रहा हूं. उनकी सादगी और देश के प्रति समर्पण और 'जय जवान, जय किसान' का नारा आज भी देश की पीढ़ियों को प्रेरित करने के लिए गूंजता है. भारत की प्रगति के प्रति उनकी अटूट प्रतिबद्धता और चुनौतीपूर्ण समय में उनका नेतृत्व अनुकरणीय है. हम सदैव सशक्त भारत के उनके दृष्टिकोण को साकार करने के लिए कार्य करते रहेंगे.'