Daesh News

20 ठिकानों पर एक साथ आईटी रेड से खुलेंगे कई राज!, मिल्लिया एजुकेशनल ट्रस्ट के नाम है अरबों की संपत्ति

आयकर विभाग की टीम ने आज मिल्लिया एजुकेशनल ट्रस्ट के बीस ठिकानों पर छापेमारी की है. इस कार्रवाई के तहत मुख्य रूप से मिल्लिया एजुकेशनल ट्रस्ट के संस्थापक डॉक्टर असद इमाम के आवास, उनके लीगल एडवाइजर अधिवक्ता कैसर इमाम के आवास के अलावा उनके कई परिजनों के आवास पर आयकर विभाग की टीम द्वारा धावा बोला गया. इनमें पूर्णिया के मिल्लिया इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, मिल्लिया डिग्री कॉलेज, मिल्लिया B.Ed कॉलेज, मिल्लिया इंटरनेशनल गर्ल्स स्कूल, मिल्लिया कन्वेंट पूर्णिया में छापेमारी की गई है. इसके अलावा किशनगंज मिल्लिया इंजीनियरिंग कॉलेज, कस्बा के मिल्लिया हाई स्कूल, मुजफ्फरपुर, भागलपुर और रांची में भी रेड डाली गई.

मिल्लिया ट्रस्ट की संपत्ति की बात करें तो पिछले 25 वर्षों में मिल्लिया एजुकेशनल ट्रस्ट ने अरबों की संपत्ति अर्जित की है. इसमें एमआईटी में 52 बीघा जमीन भी शामिल है. बताया जाता है कि उसमें 38 बीघा जमीन तो केवल डॉक्टर असद इमाम की पत्नी सवाना परवीन के नाम से है. इसमें सबाना परवीन के पति के जगह पिता का नाम दर्ज है.

गणेशपुर में 100 बीघा कीमती जमीन

इसके अलावा गणेशपुर में करीब 100 बीघा जमीन, परोरा डेंटल कॉलेज, मिल्लिया इंटरनेशनल पब्लिक गर्ल्स स्कूल, डिग्री कॉलेज, मिल्लिया कान्वेंट, B.Ed कॉलेज के अलावा कस्बा में मिल्लिया कान्वेंट, फिर किशनगंज, मुजफ्फरपुर, भागलपुर ,पटना और रांची में भी इस ट्रस्ट के कई संस्थान है.

बिहार-झारखंड की आईटी टीम ने की रेड

बता दें कि इनकम टैक्स की बिहार और झारखंड से पहुंची टीम मिल्लिया एजुकेशनल ट्रस्ट के बीस ठिकानों पर छापेमारी की है. आय से अधिक संपत्ति के मामले में या छापामारी चल रही है या मामला कुछ और भी इसका पता तो फिलहाल नहीं लग पाया है, लेकिन छापेमारी के बाद जल्दी ही कई रहस्यों का खुलासा होने की उम्मीद है.