Daesh News

पटना के मोईनउल हक़ स्टेडियम में रहाणे की एक झलक पाने के लिए बेताब दिखे फैंस, हाथ हिलाकर रहाणे ने स्वीकार किया अभिवादन

पटना के मोईन उल हक़ स्टेडियम में बिहार और मुंबई के बीच रणजी मैच खेला जा रहा है. रणजी मैच देखने के लिए हजारों की संख्या में क्रिकेट फैंस उमड़ पड़े हैं लेकिन मैच के दौरान एक ऐसा वाकया हुआ, जिसको देखकर शायद आप भी हैरान रह जाएंगे. मैच के दौरान भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाड़ी अजिंक्य रहाणे की एक झलक पाने के लिए क्रिकेट प्रेमी बेताब दिखे. दर्शक बार-बार मैदान में उनका नाम ले रहे थे, यह देख रहाणे से भी नहीं रहा गया, उन्होंने मैदान में आकर क्रिकेट प्रेमियों का अभिवादन स्वीकार किया और हाथ हिलाया. रहाणे ने मोइनुल हक़ स्टेडियम के चारों और घूमकर दर्शकों का अभिवादन स्वीकार किया. ऐसा लग रहा था जैसे बिहार में क्रिकेट के क्रेज को देखकर रहाणे भी हैरान थे. जिस-जिस जगह से रहाणे गुजर रहे थे, वहां लोग जोर-जोर से उनका नाम ले रहे थे. 

रहाणे के पास मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें बताया कि बिहार में कई राज्यों के छात्र-छात्राएं उन्हें देखने के लिए स्टेडियम पहुंचे हैं. यह सुनकर रहाणे दंग रह गए साथ ही उन्होंने ख़ुशी भी जताई. रहाणे ने बातचीत के दौरान कहा कि बिहार आकर उन्हें अच्छा लगा. यहां के लोगों से उन्हें काफी स्नेह और प्यार मिला. क्रिकेटप्रेमियों ने बिहार के साथ-साथ मुंबई की टीम का भी उत्साह बढ़ाया. उन्होंने कहा कि यहां के लोगों का क्रिकेट के प्रति काफी लगाव है. हालांकि रहाणे खुद यह मैच नहीं खेल रहे हैं, जिस वजह से दर्शक मायूस भी नजर आए. 

वहीं एक और खिलाड़ी शिवम दुबे ने कहा कि बिहार के लोगों ने काफी स्नेह दिया. मैदान में दर्शक सरफराज और धवल कुलकर्णी का नाम लेकर भी जोर-जोर से चिल्ला रहे थे. जब मुंबई के खिलाड़ी पहले दिन का खेल खत्म होने के बाद मैदान से बाहर निकलने लगे तो उनकी बस के सामने लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई. भीड़ को देखते हुए पुलिस लाइन से अतिरिक्त बल की तैनाती के अलावा कई थानों की पुलिस पहुंची और भीड़ को किसी तरह नियंत्रित किया. दर्शक खिलाड़ियों को देखने और ऑटोग्राफ लेने को बेताब दिखे. 

एक और बात इस मैच से जुड़ी हुई, जो शायद आप नहीं जानते होंगे. बिहार टीम से रणजी खेल रहे वैभव सूर्यवंशी दुनिया के सबसे कम उम्र के खिलाड़ी हैं. सिर्फ 13 साल का यह खिलाड़ी बिहार में अंडर-19 खेल चुके हैं. वैभव समस्तीपुर से आते हैं. मैच की बात करें पहला दिन बिहार के ही नाम रहा, दिन का खेल खत्म होने तक मुंबई की टीम ने 9 विकेट खोकर 235 रन बनाए हैं. वीर प्रताप ने सबसे ज्यादा 4 विकेट चटकाए.