Daesh News

अगर आप शादी करने वाले हैं तो जीवनसाथी चुनते समय इन 5 आदतों को जरूर परख लें वरना...

वेडिंग सीजन यानी शादी के मौसम की शुरुआत हो चुकी है. नवंबर-दिसंबर महीने में कई घरों में शहनाइयां बजती हैं. पैरेंट्स अपने बेटे या बेटी के लिए योग्य जीवनसाथी की तलाश में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते. वहीं, लड़का-लड़की भी चाहते हैं कि शादी उनकी हो रही है तो उनकी पसंद-नापसंद का ख्याल जरूर रखा जाए. खासकर, जब शादी अरेंज मैरिज हो तब. 

लाइफ पार्टनर का चुनाव करते समय कोई भी जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए वरना आगे चलकर रिश्ता टूटने की नौबत आ जाती है. यदि आपके घर वाले आपका रिश्ता तय कर रहे हैं, आपके लिए लड़का-लड़की देख रहे हैं तो अपनी पसंद, राय भी बताएं. आपको कोई पसंद ना आए तो आप साफ मना कर सकते हैं. चुप-चाप रह कर किसी भी रिश्ते के लिए हामी न भरें, क्योंकि आगे का सारा जीवन आपको ही उसके साथ बिताना है ना कि आपके परिवार को. ऐसे में एक बेहतर जीवनसाथ की तलाश है तो आप उसके अंदर कुछ क्वालिटी, खूबियों पर जरूर गौर करें. आइए जानते हैं एक बेहतर और अच्छे जीवनसाथी में कौन-कौन सी खूबियां होनी जरूरी है, ताकि आपका रिश्ता अटूट रहे और प्यार और सुकून से दांपत्य जीवन की गाड़ी आगे बढ़ती रहे.

कैसे करें परफेक्ट जीवनसाथी का चुनाव...

1. शादी एक लाइफ लॉन्ग कमिटमेंट है. इसमें दो परिवारों का रिश्ता जुड़ता है. इस रिश्ते में मेरा-तेरा की जगह नहीं होती है, बल्कि ‘हमारा’ ‘हम’ को महत्व दिया जाता है. ऐसे में एक हैप्पी और हेल्दी मैरिड लाइफ बिताने के लिए होने वाले जीवनसाथी में कुछ क्वालिटी, गुणों का होना बेहद जरूरी है. तो आपकी भी शादी फिक्स होने वाली है, अपने लिए योग्य दूल्हा या दुल्हन की तलाश कर रहे हैं तो फिर जल्दबाजी ना मचाएं. पूरे घर-परिवार के साथ बैठकर शादी-ब्याह पर चर्चा करें. आपके मन लायक जीवनसाथी ना मिले तो बेशक आप कुछ महीने और तलाश करें और तब शादी की बात आगे बढ़ाएं.

2. आप किसी से मिलें, इससे पहले की उससे शादी की बात आगे बढ़ें या फिक्स हो, उसके साथ कुछ पल अकेले में बातें करें. दो-तीन दिन उससे मिले-जुलें. उसके विचारों, सोच को समझने की कोशिश करें. फिर चाहे वह लड़का हो या लड़की. बातों से थोड़ा बहुत अंदाजा तो लग ही जाएगा कि उसका शादी में यकीन है या नहीं. रिश्ते, प्यार, शादीशुदा जिंदगी को लेकर सामने वाले की सोच कैसी है. लड़की या लड़के के घर वालों को इज्जत देगा या नहीं. इन सभी बातों में लड़का-लड़की पॉजिटिव रूप से खरे उतरते हैं तो फिर तो रिश्ते के लिए हां बोलने में कोई बुराई नहीं है.

3. जीवनसाथी ऐसा हो जिसकी हॉबीज, इंटरेस्ट आपसे मिलते-जुलते हों. लाइफ पार्टनर चुनते समय इस क्वालिटी पर जरूर ध्यान देना चाहिए. ऐसा इसलिए, क्योंकि कई बार आपको जिन बातों, कामों में दिलचस्पी होती है, पार्टनर की नहीं होती है. ऐसे में एक-दूसरे के साथ सामंजस्य बिठा पाना मुश्किल हो जाता है. यदि आप किसी के साथ अपना सारा जीवन बिताने का फैसला लेने वाले हैं तो इस बात पर गौर करें कि वो आपकी पसंद-नापसंद में रुचि ले रहा है या नहीं.

4. कुछ लोग पहली मुलाकात में इंम्प्रेशन छोड़ने के लिए खूब बढ़-चढ़कर बातें करते हैं, डींगे मारते हैं. ऐसे में होने वाले लाइफ पार्टनर के इंटेलिजेंस पर भी ध्यान देना जरूरी है. साथ ही आप जितने पढ़े-लिखें हैं या आपकी एजुकेशनल क्वालिफिकेशन, जॉब पर भी गौर फरमाएं. यदि आप चाहते हैं कि आपका जीवनसाथी आपको समझने के साथ ही आपके काम को भी समझे, सपोर्ट करे तो ऐसा पार्टनर बेस्ट है. शादी के बाद भी आपको काम करने दे ना कि हाउस वाइफ बनाकर रखे, आपके सपनों को पूरा करने में आपको भरपूर सपोर्ट करे तो ऐसा इंसान जीवनसाथी बनने के लिए परफेक्ट है.

5. एक-दूसरे का सम्मान करने वाला, रिश्तों की अहमियत को समझने वाला हो लाइफ पार्टनर. हमेशा अपनी चलाना, हर बात अपनी ही मनवाना, हर चीज में अकेले फैसला लेना, खुद को सही और सामने वाले को गलत ठहराने वाला इंसान ठीक नहीं होता. यदि आपको शादी से पहले कुछ मुलाकातों में ये आभास होता है तो ये रिश्ता बिल्कुल ना जोड़ें वरना आपको बाद में पछताना पड़ सकता है.