Daesh News

उत्तरकाशी में अंतिम चरण में रेस्क्यू ऑपरेशन, तमाम जद्दोजहद के बीच आज बाहर निकाले जा सकते हैं मजदूर

उत्तराखंड के उत्तरकाशी में सुरंग हादसे के काफी दिन बीत चुके हैं. लगातार 41 मजदूरों को बचाने की जद्दोजहद की जा रही है. हर तरह के उपाय और प्रयास सभी मजदूरों को निकालने के लिए की जा रही है. इसके साथ ही अब सुरंग हादसे में रेस्क्यू ऑपरेशन अंतिम चरण में है. दरअसल, खबर है कि आज तक सुरक्षित सभी मजदूरों को निकाला जा सकता है. हालांकि, खबर यह भी थी कि, टनल में खुदाई कर रही अमेरिकी ऑगर मशीन में खराबी आ गई थी जिसको ठीक करने के लिए दिल्ली से एक्सपर्ट्स बुलाए गए हैं. हेलीकॉप्टर के जरिये सभी एक्सपर्ट्स उत्तराखंड पहुंचेंगे.

दिल्ली से बुलाए गए हैं एक्सपर्ट्स 

हालांकि, बचाव कार्य लगातार जारी है और कभी भी मजदूरों को निकाला जा सकता था. जानकारी के मुताबिक, अंदर फंसे मजदूरों के बाहर आते ही सबसे पहले मेडिकल चेकअप किया जाएगा. उसके बाद आगे का प्रोसेस किया जायेगा. बता दें कि, यहां टनल में 12 नवंबर से मजदूर फंसे हुए हैं. बचावकर्मियों ने मलबे के बीच 45 मीटर तक चौड़े पाइप सफलतापूर्वक डाल दिए हैं. अब सिर्फ कुछ मीटर की दूरी तय करना बाकी है. उसके बाद मजदूरों तक बचाव कर्मी पहुंच जाएंगे और उन्हें पाइप के जरिए बाहर लेकर आएंगे. मजदूरों तक पहुंचने के लिए बचावकर्मियों को कुल मिलाकर करीब 57 मीटर तक ड्रिलिंग करनी पड़ी. मलबे में 39 मीटर तक स्टील पाइप डाले गए हैं.

बड़ी सफलता हाथ लगने की उम्मीद 

वहीं, उत्तरकाशी सुरंग में राहत बचाव कार्य का आज 12वां दिन हैं. अब सिर्फ 6-8 मीटर का दायरा ड्रिलिंग के लिए बाकी है. लेकिन ऑगर मशीन में कुछ खराबी के चलते उसे बंद कर दिया गया है. दिल्ली से 7 एक्सपर्ट हेलिकॉप्टर से उत्तरकाशी जल्द ही पहुंचेंगे. लगातार चल रहे रेस्क्यू ऑपरेशन को लेकर बचाव अभियान टीम के सदस्य गिरीश सिंह रावत ने बताया कि, रेस्क्यू ऑपरेशन अपने अंतिम चरण में है. अभी से कुछ घंटों में मजदूरों को बाहर निकाल लिया जाएगा. उन्होंने बताया कि मजदूरों को निकालने के लिए पाइपलाइन डाली जा रही है. मलबे में फंसे स्टील के टुकड़ों को काटकर हटा दिया गया है. उम्मीद है कि जल्द ही बड़ी सफलता हाथ लगेगी.