Daesh News

सहारा ग्रुप के संस्थापक सुब्रत रॉय ने दुनिया को कहा अलविदा, गंभीर बीमारी से थे ग्रसित

सहारा ग्रुप के संस्थापक और मशहूर बिजनेसमैन सुब्रत रॉय ने देर रात दुनिया को अलविदा कह दिया है. मुंबई के एक अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली. बताया जा रहा कि, सुब्रत रॉय काफी दिनों से गंभीर बीमारी से ग्रसित थे. मेटास्टैटिक स्ट्रोक, हाई ब्लड प्रेशर और डायबिटीज की वजह से वह अन्य बिमारियों के भी शिकार हो गए थे. 14 नवंबर की रात करीब 10:30 बजे कार्डियोरेस्पिरेटरी अरेस्ट की वजह से उनका निधन हो गया. बताया जाता है कि उन्हें दो दिन पहले ही 12 नवंबर को कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वहीं, आज सुब्रत रॉय के पार्थिव शरीर को लखनऊ के सहारा शहर लाया जायेगा जहां उन्हें अंतिम श्रद्धांजलि दी जाएगी.

बिहार में जन्मे थे सुब्रत रॉय 

बता दें कि, सुब्रत राय स्वर्गीय सुधरी चंद रॉय के बेटे थे. उनका जन्म बिहार के अररिया में एक उच्च मध्यम वर्गीय परिवार में हुआ था. सुब्रत रॉय हमेशा से पढ़ाई में काफी अच्छे थे. उन्होंने सरकारी तकनीकी संस्थान गोरखपुर से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया है. सहारा समूह की स्थापना से पहले उन्होंने रियल एस्टेट में लंबा समय बिताया था. सहारा समूह की स्थापना से पहले 18 सालों को रियल एस्टेट का अनुभव था और व्यवयास का 32 सालों का बड़ा अनुभव था. उन्होंने स्वप्ना रॉय से शादी की थी और उनके दो बेटे हैं. वहीं, अब 75 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया. 

सुब्रत रॉय पर चल रहा था मुकदमा 

मलूँ हो कि, सुब्रत रॉय के खिलाफ पटना हाईकोर्ट में लोगों का पैसा कई साल से भुगतान नहीं करने का एक मुकदमा चल रहा था. इस मामले में वह जमानत पर थे, पिछले साल ही सुप्रीम कोर्ट ने पटना हाईकोर्ट के गिरफ्तारी आदेश पर तत्काल सुनवाई करते हुए इस आदेश पर रोक लगा दी थी, इसके अलावा आगे उनके खिलाफ किसी भी तरह की कार्रवाई को लेकर यथा स्थिति बनाए रखने का आदेश दिया था. वहीं, सुब्रत रॉय के निधन पर सपा प्रमुख अखिलेश यादव, चाचा शिवपाल यादव के अलावा कई अन्य राजनीतिक नेताओं ने सोशल मीडिया के माध्यम से गहरा दुख जताया है.