Daesh News

पीएम मोदी के आगे शरद पवार का सरेंडर, क्या ‘INDIA’ गठबंधन को देंगे झटका?

एनसीपी प्रमुख शरद पवार अगले एक अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मंच साझा करने जा रहे हैं. इस खबर ने विपक्षी गठबंधन ‘इंडिया’ की चिंता बढ़ा दी है. सामने आयी जानकारी के मुताबिक महाराष्ट्र के पुणे में लोकमान्य तिलक स्मारक मंदिर ट्रस्ट की ओर से आयोजित लोकमान्य तिलक राष्ट्रीय पुरस्कार समारोह में पीएम मोदी हिस्सा लेंगे. इस समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लोकमान्य तिलक पुरस्कार से सम्मानित किया जाना है. इसी कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के तौर पर पवार उपस्थित रहेंगे.

विपक्षी नेताओं ने चिंता जताई

पवार के इस कार्यक्रम में शामिल होने की सूचना सामने आने के बाद विपक्षी ‘इंडिया’ गठबंधन के कुछ नेताओं ने चिंता जताई है. सूत्रों के मुताबिक कई विपक्षी दलों के नेताओं ने इस मुलाकात पर सवाल उठाए हैं. यह सवाल इसलिए भी उठ रहे हैं, क्योंकि इन दिनों एकजुट होकर विपक्ष पीएम मोदी पर हमलावर है और उनसे मणिपुर की घटना पर संसद में बोलने की मांग कर रहा है. ऐसे में शरद पवार का इस समय पीएम मोदी के साथ मंच साझा करना कई सवालों को जन्म देता है.

खुलकर हां या ना, कुछ भी नहीं कह रहे

बता दें कि शरद पवार अभी अपनी पार्टी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को बचाने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं. उनके भतीजे अजित पवार ने पिछले दिनों पार्टी को तोड़ कर अपने समर्थक वाले विधायकों के साथ सत्तारूढ़ गठबंधन का दामन थाम लिया था. उसके बाद से अजित पवार और उनके समर्थक नेता शरद पवार को मनाने की कोशिश कर रहे हैं कि वे एनडीए में शामिल हो जाएं. शरद पवार ने इस पर खुलकर हां या ना, कुछ भी नहीं कहा है. यह विपक्ष के लिए चिंता का कारण बना हुआ है.